नवरात्रि में क्यों है खास दुर्गा अष्टमी, नवरात्रि के आठवें दिन करें महागौरी की पूजा

नवरात्रि का पवित्र पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। बच्चों से लेकर बड़ों तक दुर्गा मां की भक्ति में डूबे हुए नजर आ रहे हैं। मान्यता है कि नवरात्रि में दुर्गा मां की आराधना करने से मनोकामनाएं पूरी होती हैं। नवरात्रि का आठवां दिन बहुत ही खास माना जाता है। नवरात्रि के
 
नवरात्रि में क्यों है खास दुर्गा अष्टमी, नवरात्रि के आठवें दिन करें महागौरी की पूजा

 नवरात्रि का पवित्र पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। बच्चों से लेकर बड़ों तक दुर्गा मां की भक्ति में डूबे हुए नजर आ रहे हैं। मान्यता है कि नवरात्रि में दुर्गा मां की आराधना करने से मनोकामनाएं पूरी होती हैं। नवरात्रि का आठवां दिन बहुत ही खास माना जाता है। नवरात्रि के आठवें दिन यानी की अष्टमी को नौ कन्याओं का पूजन किया जाता है। साथ ही जो लोग पूरे 9 दिनों तक व्रत नहीं रख पाते वह अष्टमी का व्रत रखते हैं।

नवरात्रि में क्यों है खास दुर्गा अष्टमी, नवरात्रि के आठवें दिन करें महागौरी की पूजा

नवरात्रि की अष्टमी का विशेष महत्व है। इस दिन पंडालों में दुर्गा की नौ शक्तियों का आह्वान किया जाता है।

इस आह्वान को बहुत ही शुभ फलदाई माना गया है। इस साल नवरात्रि की अष्टमी 24 अक्टूबर दिन शनिवार को है।

नवरात्रि में क्यों है खास दुर्गा अष्टमी, नवरात्रि के आठवें दिन करें महागौरी की पूजा

नवरात्रि की अष्टमी पर मां दुर्गा के आठवां रूप यानी कि महागौरी की आराधना की जाती है। ऐसी मान्यता है कि मां गौरी की आराधना करने से परिवार में सुख शांति और समृद्धि आती है। महागौरी की पूजा के बाद नौ कन्याओं और एक बालक को घर बुलाया जाता है। इन सभी की पूजा की जाती है और इन्हें हलवा पूरी और चने का भोग दिया जाता है। कुछ लोग बच्चों को उपहार देकर भी विदा करते हैं।बंगाली लोगों के लिए नवरात्रि की अष्टमी खास मायने रखती है। इस दिन बंगाली लोग एकजुट होकर मां दुर्गा की प्रतिमा पर पुष्प वर्षा करते हैं। यह भक्तिमय नजारा दर्शनीय होता है।

अगर आपकी भी राशि इनमे से एक है तो कमेंट बॉक्स में “जय माता दी “ अवश्य लिखें।

From Around the web