अमृत महोत्सव के तहत पैन इंडिया जागरूकता अभियान के तहत होगा विविध कार्यक्रमों का आयोजन:जिला जज

 
Various programs will be organized under Pan India awareness campaign under Amrit Mahotsav District Judge

औरंगाबाद 29 सितंबर आगामी दो अक्टूबर से 14 नवंबर तक भारत के अमृत महोत्सव के तहत विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। आज जिला विधिक सेवा प्राधिकार के अध्यक्ष सह जिला एवं

सत्र न्यायाधीश मनोज कुमार तिवारी ने बताया कि उक्त कार्यक्रम कि औपचारिक उद्घाटन दिनांक दो अक्टूबर को होगा।उस दिन कार्यक्रम का विस्तृत कैलेण्डर जारी किया जायेगा।

उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देश के आलोक में आगामी 2 अक्टूबर से 14 नवंबर तक प्रति दिन जिले के विभिन्न क्षेत्रों में जिला प्रशासन एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकार के संयुक्त तत्वावधान में कई कार्यक्रमें आयोजित की जायेगीं।

तिवारी ने बताया कि उक्त कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य पैन इण्डिया जागरूकता अभियान के तहत पूरे देश में गरीब अनुसूचित जाति,जनजाति एवं वैसे व्यक्ति जिन्हें विधिक अधिकारों की जानकारी नहीं है, उन्हें विधिक अधिकारों के प्रति जागरूक करना है।

उन्होंने बताया कि हमारे आस-पास कई ऐसी समस्याएं होती है जिनका निदान जानकारी के अभाव में मुश्किल हो जाती ह। उदाहरण स्वरुप जानकारी के अभाव में बहुत लोग आयकर रिटर्न दाखिल नहीं करते हैं ।

हर व्यक्ति चाहे वह प्रतिदिन मजदूरी करने वाला ही क्यों न हो आयकर रिटर्न दाखिल करनी चाहिए। इससे उनको फायदा होता है। अगर वे किसी दुखद घटना के शिकार होते हैं तो इससे मोटर दुर्घटना वाद मुआवजा में उन्हें उनके उचित मुआवजा मिलने में बहुत ही आसानी होती है

।अन्यथा उन्हें उचित हक नहीं मिल पाता है। अध्यक्ष सह जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने बताया ऐसी अनेको छोटी-छोटी बातें हैं।अगर हर व्यक्ति जागरूक हो जाए तो कई समस्याओं का समाधान आसानी से हो जाती है।उनके विधिक अधिकारों की रक्षा सुलभ होती है।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश के प्रकोष्ठ में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में प्राधिकार के सचिव प्रणव शंकर ने बताया कि कार्यक्रम की सफलता और इसमें अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी इसके व्यापक प्रचार- प्रसार पर निर्भर करता है।

इस अवसर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में कुछ ऐसे विशेष कार्यक्रम भी है जो जिले के लिए मिल के पत्थर साबित होगें। इसके साथ उन्होंने आगामी 11 दिसम्बर को होने वाले राष्ट्रीय लोक अदालत में अबतक की कार्रवाई एवं अद्यतन जानकारियां दी।

उनके द्वारा बताया गया कि आगामी राष्ट्रीय लोक अदालत की तैयारी शुरू कर दी गयी है और प्राधिकार ने अपना लक्ष्य तय कर रखा है। सचिव ने जानकारी दी कि जल्द ही जिले के सभी डाकघरों में विधिक सेवा प्राधिकार अपनी विधिक सेवा से सम्बन्धित सुविधाएं उपलब्ध कराने जा रहा है।

सचिव शंकर ने बताया कि प्राधिकार “गिरफ़्तारी के पहले तथा गिरफ्तारी के बाद” के तर्ज पर जिले के महत्वपूर्ण दस थानों में विधिक सहायता हेतु पैनल अधिवक्ताओं तथा अर्द्ध विधिक स्वयं सेवक प्रतिनियुक्त करेगी ताकि थाने में आये लोगों को समय से विधिक सहायता उपलब्ध हो सके तथा उनके विधिक अधिकारों की रक्षा हो सके।

From Around the web