फिर से शुरू होगी 'वैक्सीन मैत्री', अतिरिक्त टीकों से अन्य देशों की मदद करेगा भारत

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मंडाविया ने सोमवार को अक्टूबर से ‘वैक्सीन मैत्री’ को फिर से शुरू करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि साल की अंतिम तिमाही में वैक्सीन मैत्री के तहत भारत दुनिया के अन्य देशों को भी वैक्सीन मुहैया कराएगा।
 
'Vaccine friendship' will start again, India will help other countries with additional vaccines
केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मंडाविया ने सोमवार को अक्टूबर से ‘वैक्सीन मैत्री’ को फिर से शुरू करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि साल की अंतिम तिमाही में वैक्सीन मैत्री के तहत भारत दुनिया के अन्य देशों को भी वैक्सीन मुहैया कराएगा। अक्टूबर से देश में 30 करोड़ से अधिक वैक्सीन उपलब्ध होगी।
'Vaccine friendship' will start again, India will help other countries with additional vaccines

सोमवार को मीडिया को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि भारत ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ के अनुरूप वैक्सीन मैत्री के तहत टीकों का निर्यात फिर से शुरू करेगा। उन्होंने बताया कि कोरोना के खिलाफ सामूहिक लड़ाई के लिए दुनिया के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को पूरा करने के लिए टीकों की अधिक आपूर्ति का उपयोग किया जाएगा।

मनसुख मंडाविया ने कहा कि प्रधानमंत्री के अथक प्रयासों और मार्गदर्शन के कारण ही भारत कोरोना टीकों पर अनुसंधान और उत्पादन एक साथ कर रहा है। भारत का टीकाकरण अभियान दुनिया के लिए एक आदर्श रहा है और यह बड़ी तेजी से आगे बढ़ रहा है।

उन्होंने कहा 16 जनवरी को टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद से 10 करोड़ वैक्सीन लगाने के आंकड़े तक पहुंचने में 85 दिन लगे। इसके बाद अगले 10 करोड़ टीके लगाने में 45 दिन लगे। दिनों की संख्या लगातार घट रही है। पिछले 10 करोड़ डोज लगाने में महज 11 दिन लगे हैं। टीकाकरण कार्यक्रम लगातार तेजी से चल रहा है।

उल्लेखनीय है कि देश में वर्तमान में कुल 80.85 करोड़ टीकों की डोज दी जा चुकी है।

From Around the web