UP: 10 साल बाद भादों माह में हुई 120 मिमी बारिश, दो दिन बाद मिलेगी राहत

हिन्दी माह में भादों तक बारिश का समय माना जाता है लेकिन पिछले 10 वर्षों से इस माह में नाममात्र की बारिश हुई। इस वर्ष पहली बार मानसून सक्रिय हुआ और
 
UP After 10 years 120 mm of rain in Bhadon month relief will be given after two days

हिन्दी माह में भादों तक बारिश का समय माना जाता है लेकिन पिछले 10 वर्षों से इस माह में नाममात्र की बारिश हुई। इस वर्ष पहली बार मानसून सक्रिय हुआ और लगातार तीन दिनों से कानपुर सहित पूरे उत्तर प्रदेश में बारिश हो रही है। गुरुवार की सुबह आठ बजे से लेकर शुक्रवार की दोपहर दो बजे तक मौसम विभाग में 120 मिमी बारिश दर्ज की गई।

UP After 10 years 120 mm of rain in Bhadon month relief will be given after two days

झमाझम बारिश और तेज हवाओं से जहां शहर में जलभराव हुआ तो वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में दर्जनों मकान भी गिर गये। मौसम विभाग का कहना है कि अभी दो दिनों तक ऐसा ही मौसम बना रहेगा।

सावन माह में मानसून की अपेक्षित बरसात से वंचित रहे उत्तर प्रदेश के लोगों को भादों ने सराबोर कर दिया है। समूचा उत्तर प्रदेश मंगलवार की आधी रात से बादलों की आगोश में है और बराबर बारिश हो रही है। इस बारिश की सबसे बड़ी खासियत है कि सावन माह की तरह फुहारेदार झड़ी लगी हुई है। इससे जहां तापमान कम हो गया और लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली तो वहीं धरती में भी पानी रुक रहा है और वाटर लेवल बढ़ेगा।

मौसम विभाग ने पूरे उत्तर प्रदेश में अगले दो दिन तक ऐसा ही मौसम रहने का अलर्ट भी जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार अभी दो दिनों तक सक्रिय चक्रवात से बारिश के आसार ऐसे ही बने रहेंगे। वहीं प्रशासन ने इस दौरान लोगों को घर से बाहर नहीं निकलने व पुराने मकान मकानों में रह रहे लोगों को विशेष सावधानी बरतने की सलाह दी है। आज भी दिनभर बारिश का सिलसिला जारी रहा और आगामी दो दिनों तक बारिश होती रहेगी। इस तरह की हो रही बराबर बारिश से शहर के कई इलाकों में भीषण जलभराव हो गया तो वहीं ग्रामीण क्षेत्रों कच्चे और जर्जर भवन गिर गयें।

From Around the web