'अखिलेश' को 'अब्बा जान' शब्द से नहीं होनी चाहिए चिढ़ : सिद्धार्थ नाथ

 
'अखिलेश' को 'अब्बा जान' शब्द से नहीं होनी चाहिए चिढ़ : सिद्धार्थ नाथ
-योगी के मंत्री ने भाजपा को बताया संस्कार और संस्कृति पर चलने वाली पार्टी

लखनऊ, 16 सितंबर (हि.स.)। उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव पर करारा हमला किया है। उन्होंने कहा कि सपा समाज के एक वर्ग विशेष का हितैशी होने का दावा करती है, हालांकि यह सफेद झूठ है। इसके बावजूद प्रेम, सौहार्द्र और भावनाओं को प्रदर्शित करने वाले शब्द अब्बा जान से चिढ़ यह साबित करती है कि सपा वर्ग विशेष को भी धोखा दे रही है। अगर ऐसा नहीं होता तो अखिलेश को अब्बा जान शब्द से चिढ़ नहीं होती।

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने ये बातें गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत में कहीं। उन्होंने कहा कि सपा मुखिया अखिलेश यादव संस्कारों की बात कर रहे हैं, लेकिन यह नहीं बता रहे हैं कि ये कौन से संस्कार हैं, अपने चाचा को धक्का मारकर बाहर का रास्ता दिखा दिया और खुद पार्टी की कुर्सी पर कब्जा जमा लिया। उनके अपने सगे छोटे भाई से कैसे संबंध हैं, यह भी जगजाहिर है।

कैबिनेट मंत्री ने कहा कि भाजपा अपने संस्कार और संस्कृति पर चलने वाली पार्टी है। भाजपा सरकार में गुंडे, माफिया जेल में होते हैं न कि सपा और बसपा की सरकारों की तरह सरकार में। हमारे लिए जनता जनार्दन ही सब कुछ है और जो इन्हें सताकर अवैध कार्य करेगा, तो उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही भी होगी और बुलडोजर भी चलेगा।

अल्पसंख्यक वर्ग को पिछली सरकार की तुलना में दोगुना से अधिक लाभ दिया

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ संन्यासी हैं। वह बिना किसी लोभ, मद या तुष्टीकरण के जनता के हित में कार्य कर रहे हैं। समाज के हर वर्ग को सरकार की योजनाओं का लाभ मिल रहा है। अल्पसंख्यक वर्ग को पिछली सरकार की तुलना में योगी सरकार ने करीब दोगुना से अधिक लाभ पहुंचाया है। उन्हें भी समाज के मुख्य धारा से जोड़ा जा रहा है। योगी सरकार में हर गांव और जिले में विकास कार्य हो रहे हैं, जबकि पिछली सरकारों में चार-पांच जिलों में ही विकास दिखाई देता था।

Siddharth Nath Singh attacks Akhilesh Yadav 

From Around the web