यूपी: लखीमपुर जाने की कोशिश में पुलिस हिरासत में प्रियंका वाड्रा

लखीमपुर के तिकोनिया में किसानों तथा भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हुए संघर्ष में 8 लोगों के मारे जाने के बाद राजनीतिक हलचल तेज हो गई है। सपा, बसपा किसान यूनियन तथा अन्य पार्टियों के साथ कांग्रेस के नेताओं के लखीमपुर पहुंचने की कोशिशें जारी हैं। प्रियंका वाड्रा ने बीती रात लखीमपुर जाने की घोषणा की थी। लखनऊ से चली प्रियंका वाड्रा का काफिला पुलिस को चकमा देते हुए हरगांव कस्बे तक पहुंच गया।

 
hargawan me poolis hirasat me li gee priyanka vadra

सीतापुर, 4 अक्टूबर । लखीमपुर के तिकोनिया में किसानों तथा भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हुए संघर्ष में 8 लोगों के मारे जाने के बाद राजनीतिक हलचल तेज हो गई है। सपा, बसपा किसान यूनियन तथा अन्य पार्टियों के साथ कांग्रेस के नेताओं के लखीमपुर पहुंचने की कोशिशें जारी हैं। प्रियंका वाड्रा ने बीती रात लखीमपुर जाने की घोषणा की थी। लखनऊ से चली प्रियंका वाड्रा का काफिला पुलिस को चकमा देते हुए हरगांव कस्बे तक पहुंच गया।

कस्बे में भारी पुलिस बल व बैरिकेडिंग के बीच उन्हें लखीमपुर जाने से रोका गया। हरगांव थानाध्यक्ष बृजेश त्रिपाठी ने हिन्दुस्थान समाचार से बताया कि प्रियंका को सोमवार सुबह 5 बजकर 30 मिनट के आसपास हरगांव में हिरासत में लेकर सीतापुर वापस भेज दिया गया है।


हिरासत की खबर पर धरने पर बैठे कांग्रेसी

पुलिस द्वारा प्रियंका वाड्रा को लखीमपुर जाने की कोशिश में हिरासत में लिए जाने के बाद उन्हें सीतापुर के सेकेंड बटालियन में लाया गया। उनके आने की जानकारी मिलते ही कांग्रेसियों का पहुंचना शुरू हो गया। पूर्व जिला अध्यक्ष विनीत दीक्षित के नेतृत्व में कांग्रेस के कई कार्यकर्ता सेकेंड बटालियन गेट के बाहर धरने पर बैठकर नारेबाजी कर रहे थे।
hargawan me poolis hirasat me li gee priyanka vadra
प्रियंका के साथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू, एमएलसी दीपक सिंह सहित अन्य कई वरिष्ठ कांग्रेस नेता भी हिरासत में लिए गए हैं। पुलिस अधिकारियों के अनुसार यहां से इन्हें वापस लखनऊ भेज दिया जाएगा। समाचार भेजे जाने तक प्रियंका वाड्रा सहित अन्य कई बड़े कांग्रेसी सीतापुर के सेकेंड बटालियन में ही थे।

 

From Around the web