महंत नरेन्द्र गिरी के नाम से फर्जी ट्विटर आया सामने, दर्ज कराया था मुकदमा

 
Fake Twitter in name of Narendra Giri came to fore

प्रयागराज, 23 सितम्बर । अखाड़ा परिषद अध्यक्ष महन्त नरेन्द्र गिरी ने विवाविद ट्वीट को लेकर दारागंज थाने में छह सितम्बर की रात मुकदमा दर्ज कराया था। उनके नाम से फर्जी ट्विटर अकाउंट बनाकर विवादित ट्वीट भी किए गए हैं।

महन्त नरेन्द्र गिरी ने दारागंज थाने में छह सितम्बर की रात लगभग आठ बजे एक तहरीर दी थी। इसमें उन्होंने बताया कि उनके नाम व फोटो लगाकर ट्यूटर अकाउंट बनाकर अनर्गल ट्यूट किया जा रहा है। यह जानकारी जब मुझे हुई तो मैनें इसकी जांच कराने उसे बन्द कराने व अज्ञात के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा था।

Prayagraj Tomb of Mahant Narendra Giri today

महन्त के नाम से राजस्थान के करौली में पुजारी को जिन्दा जलाने की घटना से सम्बन्धित विवादित ट्यूट किया गया है। जबकि वे सोशल मीडिया का उपयोग नहीं करते हैं। फेसबुक और ट्यूटर अकाउंट उनका नहीं बनाया गया है, यह पूरी तरह से फर्जी है। उन्होंने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से दोषी की पहचान कर कार्रवाई करने के लिए कहा था

पुलिस सूत्रों की मानें तो महन्त के नाम से संचालित फर्जी अकाउंट की जांच शुरू कर दी गई थी। इस मामले में आईपी एड्रेस के लिए दो बार सम्बन्धित कम्पनी को रिमाण्डर किया गया है। दारागंज थाने में अपराध संख्या 1941 में आईटी एक्ट सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

From Around the web