उप्र में कोरोना के एक्टिव मामले घटकर हुए मात्र 193

 
CORONA active case in Uttar Pradesh is now only 193
-प्रदेश के कई जनपदों में इस समय कोई कोविड एक्टिव केस नहीं

लखनऊ, 18 सितंबर । उत्तर प्रदेश में कोरोना के संक्रमण पर नियंत्रण लगातार बरकरार है। राज्य में कोविड के एक्टिव मामले घटकर अब मात्र 193 हो गये हैं। कई जनपदों में तो इस समय कोरोना का एक भी केस नहीं है।

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने शनिवार को यहां बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 3टी ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट अभियान के अभिनव प्रयास से प्रदेश में कोरोना संक्रमण नियंत्रित में है। उन्होंने बताया कि 3टी के कारण ही 30 अप्रैल के एक्टिव मामले 3,10,783 से घटकर मात्र 193 हो गये हैं तथा 30 अप्रैल के प्रतिदिन कोविड केस 38 हजार से घटकर अब 09 हो गये है।

Increase in new cases of corona 34 thousand patients came in 24 hours

उन्हाेंने बताया कि प्रदेश के कई जनपदों में कोई कोविड एक्टिव केस नहीं है। सर्विलांस के माध्यम से सरकारी मशीनरी द्वारा उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ की जनसंख्या में से अब तक लगभग 17.24 करोड़ से अधिक लोगों से उनका हालचाल जाना गया है। लक्षणयुक्त व्यक्तियों का टेस्ट कराकर संक्रमण होने पर लगभग 16 लाख से अधिक निशुल्क मेडिकल किट भी बांटी गयी है। कोविड संक्रमण अभी पूरी तरह समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए सभी लोग कोविड अनुरूप आचरण करे। टीकाकरण के बाद भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन अवश्य करें।

सक्रिय मामले कम होने पर भी नहीं घटाई जा रही टेस्ट की संख्या

श्री सहगल ने बताया कि प्रदेश में सक्रिय मामले कम होने पर भी कोविड-19 के टेस्ट करने की संख्या घटाई नहीं जा रही हैं। कोविड संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए समय से पहचान व इलाज जरूरी है। शुक्रवार को एक दिन में 01 लाख 82 हजार से अधिक कोविड टेस्ट किये गये है, अब तक 7 करोड़ 61 लाख से अधिक कोविड टेस्ट किये गये है जो कि देश में सर्वाधिक है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस, टेस्टिंग एवं टीकाकरण का कार्य वृहद स्तर पर किया जा रहा है। कल प्रदेश में रिकार्ड 27 लाख से अधिक डोज दी गई है। सोमवार से लगभग 20 लाख अधिक कोविड टीकाकरण करने का प्रयास किया जायेगा। प्रदेश में 07 करोड़ 72 लाख से अधिक पहली तथा 01 करोड़ 61 लाख से अधिक दूसरी डोज सहित कल तक कुल 09 करोड़ 33 लाख डोज लगायी गयी है।

उन्होंने बताया कि शनिवार को केवल कोविड वैक्सीन की दूसरी डोज दी जाती है। प्रदेश में 50 प्रतिशत पात्र जनसंख्या को वैक्सीन की कम से कम एक डोज दे दी गयी है। नीति आयोग तथा डब्लूएचओ के द्वारा बताया गया है कि वैक्सीन की एक डोज लगभग 90 प्रतिशत कोविड से होने वाली मौतों से रक्षा करती है।

वायरल बीमारियों की पहचान के लिए चल रहा अभियान

श्री सहगल ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर बरसात के मौसम को देखते हुए डेंगू, मलेरिया व अन्य वायरल बीमारियों के लक्षणयुक्त मरीजों की पहचान के लिए प्रदेशव्यापी सर्विलांस अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के अन्तर्गत बरसात के बाद मच्छरजनित और जलजनित रोग से बचने के लिए साफ-सफाई का विशेष ध्यान दिया जा रहा है। डेंगू व अन्य वायरल रोगों का इलाज सरकारी अस्पतालों में निशुल्क किया जा रहा है। जांच सुविधा स्थानीय स्तर पर उपलब्ध करायी जा रही है।

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने प्रदेश में अतिवृष्टि से उत्पन्न स्थिति में राहत कार्य पूरी सक्रियता से संचालित करने तथा प्रभावितों को तत्परतापूर्वक मदद एवं राहत प्रदान करने के निर्देश दिए।

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिवस 17 सितम्बर से लेकर उनकी 20 साल की जनसेवा का कार्यकाल 07 अक्टूबर को पूरा हो रहा है, जिसे प्रदेश सरकार द्वारा विकास उत्सव के रूप में मनाया जा रहा है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी प्रदेश सरकार के साढ़े चार वर्ष की उपलब्धियों के संबंध में रविवार को प्रेसवार्ता करेंगे।

 

From Around the web