भाजपा का दूसरा नाम ही घोटाला और जालसाजी : अखिलेश यादव

 
BJP second name has become scam and forgery Akhilesh

लखनऊ, 23 सितम्बर । भाजपा की राज्य सरकार हर मोर्चे पर पूरी तरह से विफल है। उसने अपने किए वादे तो निभाए नहीं, प्रदेश को बदहाली और बर्बादी के कगार पर पहुंचा दिया। भाजपा का दूसरा नाम ही घोटाला, धांधली और जालसाजी हो गया है। भाजपा ने राज्य की जनता को सिर्फ परेशानियां, महंगाई और भ्रष्टाचार के ही उपहार दिए हैं। ये बातें समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गुरुवार को कही।

उन्होंने कहा कि सन 2022 का चुनाव प्रदेश को नई सरकार मिलने का चुनाव होगा। साढ़े चार साल में जनता ने देखा है कि कैसे प्रदेश विकास और प्रगति में पीछे हुआ है। आज उत्तर प्रदेश की जनता चाहती है कि प्रदेश में प्रोग्रेसिव पॉलिटिक्स हो और लोक कल्याणकारी सरकार सत्ता में आए।

BJP second name has become scam and forgery Akhilesh

अखिलेश यादव ने कहा कि स्वास्थ्य और शिक्षा क्षेत्र में भाजपा सरकार ने समाजवादी सरकार की व्यवस्थाओं को चौपट करने के अलावा कुछ और नहीं किया है। भाजपा सरकार की नाकामियों के चलते शिक्षा व्यवस्था गर्त में है। देश का भविष्य विद्यालय परिसरों में जलभराव के कारण छप्पर में पढ़ाई करने को मजबूर है। स्वास्थ्य व्यवस्था की बदहाली का एक नमूना बरेली जिले में देखने को मिला, जहां एक बच्ची की मृत्यु डेंगू से होने पर स्वास्थ्य महकमा छह दिन तक रिपोर्ट दबाए बैठा रहा। कोरोना की तरह डेंगू से मौतों को भी प्रशासन दबाने पर तुला हुआ है। वाराणसी में बीएचयू अस्पताल में बेड न होने से स्ट्रेचर पर इलाज हो रहा है।

उन्होंने कहा कि भाजपा पहले ढिंढोरा पीटती है फिर विज्ञापन में विकास का हल्ला मचाती है। उन्नाव में सन् 2018 में महिलाओं के हेतु बने पिंक शौचालयों को कागजों में नया दिखाकर निर्माण वर्ष 2021 में कर दिया गया। ईंट लगी न सीमेंट बस बन गया शौचालय। यही है भाजपा का हवाई विकास। सच्चाई यही है कि प्रदेश में भाजपा ने एक भी योजना को धरती पर नहीं उतारा है। समाजवादी पार्टी के कार्यों को ही अपना बताकर उसने साढ़े चार साल निकाल दिए। अब जनता वर्ष 2022 में भाजपा को ही निकाल सत्ता से बाहर कर समाजवादी सरकार बनाने जा रही है।

From Around the web