रीट अभ्यर्थियों को निजी बसों में मुफ्त यात्रा, बस संचालकों का हड़ताल का ऐलान

राजस्थान में सबसे बड़ी परीक्षा (REET) में एक दिन बचा है। सितम्बर 26 को होने वाली परीक्षा की तैयारियां युद्ध स्तर पर चल रही है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को बैठक ली और परीक्षा
 
REIT candidates get free travel in private buses bus operators announce strike
राजस्थान में सबसे बड़ी परीक्षा (REET) में एक दिन बचा है। सितम्बर 26 को होने वाली परीक्षा की तैयारियां युद्ध स्तर पर चल रही है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को बैठक ली और परीक्षा को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। सरकार ने रीट अभ्यर्थियों के लिए निजी व लोक परिवहन की बसों में भी निशुल्क यात्रा सुविधा देने का फैसला लिया है। इससे पहले सरकार ने रोडवेज बसों में फ्री यात्रा की व्यवस्था की थी। निजी बसों में किराए पर सहमति नहीं बनने से निजी बस संचालकों ने शुक्रवार से हड़ताल की घोषणा कर दी है।
REIT candidates get free travel in private buses bus operators announce strike
राजस्थान प्राइवेट बस ऑपरेटर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल जैन के मुताबिक जिला प्रशासन और आरटीओ बसों को पहले किलोमीटर के हिसाब से भुगतान की बात कहते रहे। लेकिन गुरुवार रात आठ बजे बाद आरटीओं ने प्राइवेट बसों का अधिग्रहण करना शुरु कर दिया। जबकि बसों का अधिग्रहण चुनाव और आपातकाल के समय ही किया जा सकता है। उन्होंने सवाल किया है कि सरकार रीट अभ्यर्थियों से करीब 103 करोड रुपये वसूल चुकी है तो ऑपरेटर्स को देने में क्या दिक्कत है।

इससे पहले गुरुवार रात को मुख्यमंत्री ने उच्चस्तरीय बैठक ली। बैठक में रीट परीक्षा के सफल आयोजन के लिए आज निम्न महत्वपूर्ण निर्णय किए हैं। इनमें रोडवेज बसों में निशुल्क यात्रा के साथ पर्याप्त संख्या में निजी बसों की व्यवस्था कर अभ्यर्थियों की निशुल्क यात्रा की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। नकल, पेपर लीक अथवा परीक्षा से जुडी किसी भी गैर-कानूनी गतिविधि में शामिल सरकारी कर्मचारी को सीधे बर्खास्त किया जाएगा। ऐसी गतिविधि में शामिल निजी संस्थानों के कार्मिकों पर कड़ी कानूनी कार्रवाई के साथ संस्थान की मान्यता हमेशा के लिए रद्द की जाएगी। परीक्षा केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। प्रिंटिंग प्रेस से एग्जाम पेपर के परीक्षार्थी के पास पहुंचाने तक के प्रोसेस में शामिल कोई भी अधिकारी एवं कर्मचारी अपनी ड्यूटी के समय मोबाइल का इस्तेमाल नहीं कर सकेगा। एग्जाम पेपर के प्रिंटिंग प्रेस से परीक्षार्थी तक पहुंचने की पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी होगी। सभी अभ्यर्थियों को परीक्षा केन्द्रों पर मास्क उपलब्ध करवाए जाएंगे। परीक्षार्थी परीक्षा केन्द्र में अपना मास्क नहीं ले जा सकेंगे। पेपर को लेकर गैर कानूनी गतिविधियों में शामिल होने वाले संदिग्धों पर इंटेलिजेंस द्वारा कड़ी नजर रखी जा रही है। जरूरत महसूस होने पर इन्हें हिरासत में भी लिया जा सकेगा। अभ्यर्थियों को आवागमन में असुविधा ना हो इसलिए बड़े शहरों में अस्थाई बस स्टैंड बनाए जाएंगे। ट्रैफिक और कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस जाब्ता तैयार किया जाएगा। महिला, दिव्यांग एवं जरूरतमंद अभ्यर्थियों की संवेदनशीलता के साथ मदद करने के लिए प्रशासन को निर्देशित किया गया है।

स्कूली शिक्षा मंत्री गोविंदसिंह डोटासरा ने कहा कि परीक्षा केन्द्र में एंट्री के वक्त अभ्यर्थी से पहले वाला मास्क लेकर परीक्षा हॉल में नया मास्क मुहैया कराया जाए, ताकि मास्क में ब्लूटूथ लगाकर नकल करने की घटनाओं को रोका जा सके। इसके लिए सेंटर के बाहर अभ्यर्थी को दूसरा मास्क दिया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि रविवार को होने वाली परीक्षा के लिए करीब 23 लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन किए हैं। करीब 4 हजार सेंटर पर यह परीक्षा दो पारी में होगी। पहली पारी सुबह 10 से दोपहर 12:30 और दूसरी पारी दोपहर 2:30 से शाम 5 बजे तक होगी।

From Around the web