करदाताओं को राहत की संभावना; आयकर रिटर्न दाखिल करने की समय सीमा बढ़ाने पर विचार

नई दिल्ली, 29 अगस्त 2021. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (SBDT) से करदाताओं को एक दो दिनों में राहत मिलने की उम्मीद है। आयकर रिटर्न दाखिल करने की समय सीमा बढ़ाई जा सकती है। इसकी घोषणा होने से करदाताओं को राहत मिलेगी। आयकर विभाग ने कुछ महीने पहले रिटर्न दाखिल करने के लिए एक नया पोर्टल
 
करदाताओं को राहत की संभावना; आयकर रिटर्न दाखिल करने की समय सीमा बढ़ाने पर विचार

नई दिल्ली, 29 अगस्त 2021.
केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (SBDT) से करदाताओं को एक दो दिनों में राहत मिलने की उम्मीद है। आयकर रिटर्न दाखिल करने की समय सीमा बढ़ाई जा सकती है। इसकी घोषणा होने से करदाताओं को राहत मिलेगी।

आयकर विभाग ने कुछ महीने पहले रिटर्न दाखिल करने के लिए एक नया पोर्टल लॉन्च किया था। हालांकि, इस पोर्टल पर आयकर रिटर्न दाखिल करने में कठिनाइयां हैं। पोर्टल बनाने और उसका रखरखाव करने वाली इंफोसिस ने खामियों को दूर किया है। हालांकि, इस पोर्टल पर आयकर रिटर्न दाखिल करने में अभी भी कुछ कठिनाइयां हैं। इसलिए इस अवधि को बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है।

इस पोर्टल पर आ रही दिक्कतों को देखते हुए आयकर रिटर्न दाखिल करने की समय सीमा बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है। नए पोर्टल की समस्या को इसके पीछे की तकनीकी वजह ढूंढकर हल किया जा रहा है। सूत्रों ने बताया कि इन्हीं दिक्कतों के चलते रिटर्न दाखिल करने में मदद बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है। अगले एक दो दिनों में फैसला आने की उम्मीद है। यदि यह समय सीमा बढ़ा दी जाती है, तो करदाताओं के पास अपना आयकर रिटर्न दाखिल करने के लिए पर्याप्त समय होगा। समय सीमा बढ़ाए जाने पर उन्हें भी राहत मिलेगी।

वित्त वर्ष 2020-21 के लिए अब तक 80 लाख आयकर रिटर्न दाखिल किए जा चुके हैं। पिछले साल दाखिल किए गए कुल रिटर्न की तुलना में अब तक 14 फीसदी आयकर रिटर्न दाखिल किया गया है।

From Around the web