अर्जुन सिंह के घर बमबारी मामले में एनआईए को सहयोग नहीं कर रही पुलिस

 
Police not cooperating with NIA in Arjun Singhs house bombing case

कोलकाता, 17 सितंबर (हि.स.)। उत्तर 24 परगना के बैरकपुर से भाजपा सांसद अर्जुन सिंह के घर बमबारी के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) जोर शोर से जांच में जुट गई है। हालांकि एनआईए सूत्रों ने बताया है कि स्थानीय प्रशासन जांच में सहयोग नहीं कर रहा।

सांसद के जगदल स्थित आवास पर गत आठ सितंबर को बमबारी हुई थी जिसकी जांच की जिम्मेवारी एनआईए को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सौंपी है। बुधवार और गुरुवार को एनआईए की टीम ने सांसद के घर जाकर उनके बेटे पवन सिंह और परिवार के सदस्यों से बात की थी। घटना के बारे में पूरी जानकारी ली है।

बमबारी के समय का सीसीटीवी फुटेज और आसपास की सड़कों के भी फुटेज मांगे गए हैं जो अभी तक उपलब्ध नहीं कराए गए हैं। यहां तक कि मामले में संलिप्त लोगों की शिनाख्त होने के बावजूद पुलिस ना तो उन्हें गिरफ्तार करने में मदद कर रही है और ना ही उनका ब्यौरा दे रही है। इधर एनआईए की टीम ने सांसद अर्जुन सिंह से भी बातचीत की है। सिंह ने कहा है कि उन्होंने जांच अधिकारियों को बम विस्फोट की घटना के बारे में पूरी जानकारी दे दी है।

सिंह के आवास को लक्ष्य कर तीन देसी बम फेंके गए थे। हालांकि इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ। घटना के समय भाजपा नेता दिल्ली में थे लेकिन उनके परिवार के सदस्य घर के अंदर थे।

विस्फोट के मामले में एक विशेष एनआइए अदालत ने बैरकपुर पुलिस आयुक्तालय को ‘केस डायरी’ पेश करने का निर्देश दिया है। मामले की जांच कर रही टीम के अनुरोध पर अदालत ने यह निर्देश दिया है। एनआइए ने मामले में दर्ज प्राथमिकी की एक प्रति नगर सत्र अदालत के न्यायाधीश एवं विशेष एनआइए अदालत के प्रभारी (न्यायाधीश), पार्थ सारथी सेन को सौंपी है।

जांच एजेंसी के वकील श्यामल घोष ने शुक्रवार बताया कि न्यायाधीश ने बैरकपुर पुलिस को तीन दिनों के अंदर केस डायरी सौंपने और घटना के सिलसिले में गिरफ्तार आरोपित को 21 सितंबर को अदालत में पेश करने का निर्देश दिया है। उस दिन विषय की आगे की सुनवाई होगी। एनआइए को घटना पर एक रिपोर्ट सुनवाई की अगली तारीख पर पेश करने को कहा गया है। हालांकि आवश्यक दस्तावेज जब तक पुलिस नहीं देगी तब तक कोई भी रिपोर्ट पेश करना एनआईए के लिए चुनौतीपूर्ण होगा।

Police not cooperating with NIA in Arjun Singhs house bombing case

From Around the web