पश्चिम रेलवे ने अभियान चलाकर शराब तस्करों के खिलाफ कार्रवाई की

पश्चिम रेलवे के रेलवे सुरक्षा बल ने ट्रेनों और रेल परिसरों में बूटलेगिंग गतिविधियों को रोकने के लिए एक विशेष अभियान चलाया, जिसमें कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित की गई। 2021 में अगस्त माह तक चलाये गये अभियान के दौरान 239 मामले दर्ज किए गये और 13.15 लाख रुपये से अधिक मूल्य की शराब बरामद की गई।

 
Western Railway took action against liquor smugglers by running a campaign

मुंबई, 2 अक्टूबर। पश्चिम रेलवे के रेलवे सुरक्षा बल ने ट्रेनों और रेल परिसरों में बूटलेगिंग गतिविधियों को रोकने के लिए एक विशेष अभियान चलाया, जिसमें कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित की गई। 2021 में अगस्त माह तक चलाये गये अभियान के दौरान 239 मामले दर्ज किए गये और 13.15 लाख रुपये से अधिक मूल्य की शराब बरामद की गई।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी सुमित ठाकुर के अनुसार, रेलवे सुरक्षा बल को यह सूचना मिली थी कि शराब के तस्कर ट्रेनों और रेल परिसरों में अवैध शराब ले जा रहे हैं। पश्चिम रेलवे के प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त पीसी सिन्हा के निर्देश पर शराब तस्करों पर नकेल कसने के लिए आरपीएफ की विशेष टीमों का गठन किया गया। 2021 में अगस्त माह तक चलाये गये अभियान के दौरान 239 मामले दर्ज किये गये और 222 लोगों को गिरफ्तार किया गया।

Western Railway took action against liquor smugglers by running a campaign

13.15 लाख रुपये से अधिक मूल्य की 14,344.35 लीटर शराब बरामद की गई। उल्लेखनीय है कि पश्चिम रेलवे के सभी 6 मंडलों में बूटलेगिंग की ऐसी गतिविधियों को रोकने के लिए विशेष टीमों का गठन किया गया है। ऐसे बदमाशों पर नकेल कसने के लिए समय-समय पर छापेमारी भी की जा रही है।

From Around the web