साहसिक पर्यटन नीति को लेकर आज से विशेषज्ञ लेंगे लोगों की राय

 
Experts will take peoples opinion regarding adventure tourism policy from today

मुंबई, 11 अक्टूबर महाराष्ट्र सरकार ने प्रदेश में मौजूद व्यापक प्राकृतिक संसाधनों को ध्यान में रखते हुए जल-थल- वायु जैसे पर्यटन को बढ़ावा देने की तैयारी कर रही है।

पर्यटन की तमाम गतिविधियों विशेषकर सैलानियों की सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए साहसिक नीति पर अमल को लेकर युद्धस्तर पर काम शुरू कर दिया गया है।

संबंधित विभागों के विशेषज्ञ आज से एक वेबीनार की शुरुआत करने जा रहे हैं, जिसमें लोगों की राय ली जाएगी साथ ही नई नीति को लेकर संदेह और शिकायतों का निराकरण भी किया जाएगा।

जल-थल- वायु में रोमांचक खेलों को लेकर यह नीति बनाई गई है। साहसिक पर्यटन नीति को हाल ही में कैबिनेट की मंजूरी दी गई है। यह नीति अमल में आई तो आगामी कुछ दिनों में

राज्य के जल- थल -वायु में रोमांचक और साहसी पर्यटन से संबंधित खेलों का सुरक्षित आयोजन होगा। इससे राज्य में देश और विदेश के पर्यटक बढ़ने के साथ ही रोजगार के भी अवसर मिलेंगे।

जल में नौकायन, क्याकिंग, राफ्टिंग, स्कूबा डाइविंग जैसी जलक्रीड़ाएं, स्पीड मोटर बोट, लैंड-वाटर पैरासिलिंग, लैंड-वाटर जोराबीन जैसे खेलों का आयोजन होगा।

जंगलों में एडवेंचर, पर्वतारोहण,तीरंदाजी, झूले, ट्रेकिंग और कैंपिंग, साइकिलिंग, प्राकृतिक ट्रेल्स, वन्यजीवों का दर्शन जैसे अनेक पर्यावरण से संबंधित कार्यक्रमों का आयोजन होगा।

हवा में पैराग्लाइडिंग, गर्म हवा के गुब्बारे जैसे खेल के आयोजनों को गति मिल सकेगी। राज्य सरकार ने एक कार्यप्रणाली तय की है। आयोजकों को पर्यटकों की सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए इस कार्यप्रणाली के नियमों पर सख्ती से अमल करना होगा।

महाराष्ट्र पर्यटन निदेशालय ने राज्य में साहसिक पर्यटन विकास की तैयारियों पर एक विशेष वेबिनार का आयोजन किया है। पूरे कार्यक्रम को आज से 29 अक्टूबर तक आठ विभिन्न विषयों पर आठ सत्रों के माध्यम से लागू किया जाएगा।

पर्यटन निदेशालय के अधिकारी मनोज हडवले और जितेंद्र देशमुख ने बताया कि कार्यक्रम के अनुसार शाम चार बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक पर्यटन से जुड़े विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञ प्रतिभागियों से संवाद करेंगे। संबंधित क्षेत्रों के विशेषज्ञ प्रस्तावित साहसिक नीति और सुरक्षा मापदंडों पर लोगों को जानकारी देंगे।
 

Experts will take peoples opinion regarding adventure tourism policy from today

From Around the web