महाराष्ट्र में 5 हजार रेजिडेंट्स डॉक्टर बेमियादी हड़ताल पर

 
5 thousand resident doctors on indefinite strike in Maharashtra

मुंबई, 01 अक्टूबर  महाराष्ट्र के 5 हजार रेजिडेंट्स डॉक्टरों ने विभिन्न मांगों के समर्थन में शुक्रवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दिया है। इससे शासकीय अस्पतालों में स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है।

सरकारी अस्पतालों में सिर्फ आपातकालीन सेवाओं के लिए वरिष्ठ डॉक्टर ड्यूटी पर उपस्थित हैं। महाराष्ट्र स्टेट एसोसिएशन आफ रेजिडेंट डॉक्टर्स (मार्ड) के अध्यक्ष ज्ञानेश्वर ढोबले पाटिल ने

बताया कि कोरोना महामारी की विपरीत परिस्थितियों में सभी डॉक्टरों ने दिन-रात मेहनत कर मरीजों की सेवा की, लेकिन सरकार ने उनके मानधन का टीडीएस काटना शुरू कर दिया है।

साथ ही एमबीबीएस, एमडी और एमएस शिक्षण का शुल्क भी वसूल रही है। हॉस्टलों में सुविधाओं का अभाव है। इन सभी मांगों को लेकर पिछले 6 महीने से राज्य सरकार के साथ पत्राचार कर रहे हैं,

लेकिन अब तक इन मांगों पर विचार नहीं किया गया। पाटिल ने बताया कि गुरुवार को उप मुख्यमंत्री अजीत पवार के साथ मार्ड के प्रतिनिधियों की बैठक आयोजित की गई थी,

लेकिन इसमें कोई सकारात्मक निर्णय नहीं हो सका था। इसी वजह से सभी रेजिडेंट्स डॉक्टर हड़ताल पर जाने के लिए मजबूर हुए। उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार द्वारा संचालित 18 मेडिकल कॉलेजों में 5 हजार से ज्यादा रेजिडेंट्स डॉक्टरों ने हड़ताल शुरू किया है।

आज चिकित्सा शिक्षा मंत्री अमित देशमुख मार्ड के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत करेंगे। इस संभावित बातचीत में सकारात्मक निर्णय नहीं होने पर रेजिडेंट्स डॉक्टरों की हड़ताल का व्यापक असर पड़ सकता है।

5 thousand resident doctors on indefinite strike in Maharashtra

From Around the web