खुद पर विश्वास रख आगे बढ़ने वालों के कदम चूमती है सफलता : शिवराज

 
Having faith in yourself success kisses the steps of those who move forward Shivraj
भोपाल, 13 अक्टूबर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जो स्वयं पर विश्वास रखते हुए आगे बढ़ता है, सफलता उसके कदम चूमती है, अन्यथा चुनौतियां तो सबके जीवन में होती हैं। स्वामी विवेकानंद कहते थे कि तुम केवल साढ़े तीन हाथ के हाड़ मांस के पुतले नहीं हो, ईश्वर का अंश हो, अनंत शक्ति के भंडार हो। दृढ़ निश्चय करो, आगे बढ़ो, सफलता तुम्हारा वरण अवश्य करेगी।

मुख्यमंत्री चौहान बुधवार को राजधानी भोपाल के मिंटो हाल में आयोजित कार्यक्रम "सफलता के मंत्र" को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में इस वर्ष मध्य प्रदेश से यूपीएससी में चयनित प्रतिभाओं को सम्मानित कर उनसे संवाद किया। उन्होंने कहा कि यूपीएससी में सफलता प्राप्त करने वालों को बधाई देता हूं और जो तैयारी कर रहे हैं, उन्हें अग्रिम सफलता के लिए शुभकामनाएं देता हूं। चौहान ने कहा कि मेरे बच्चों, मध्यप्रदेश देश का दिल है, लेकिन आपने मध्यप्रदेश का दिल जीत लिया है। यूपीएससी में सफलता के लिए इन बच्चों ने बहुत त्याग और तपस्या की है। उन्होंने अपनी पसंद की चीजों को छोड़कर सिर्फ पढ़ाई पर ध्यान दिया। इनके माता-पिता ने भी इनके साथ एक तपस्वी की तरह परिश्रम किया।

उन्होंने कहा कि सिविल सर्विसेज धन कमाने का नहीं, प्रदेश और देश बनाने का कॅरियर है। लोगों की जिंदगी बदलने का आपको मौका मिलता है। हमें समस्या का समाधान निकालने के लिए काम करना चाहिए। जहां चाह वहां राह है। विकास के लिए ललक ऐसी कि कई अधिकारियों ने प्रतिमान स्थापित किए हैं, उन्हें अब लोग देवता की तरह पूजते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरे बच्चों, अपना लक्ष्य तय करो, फिर पूरी शक्ति एवं सामर्थ्य के साथ प्रयास करो। लक्ष्य प्राप्ति के लिए साधना, संयम और तपस्या जरूरी है। अपना लक्ष्य हो तो आप स्वप्रेरणा से ही घनघोर परिश्रम के लिए तैयार हो जाएंगे। माता-पिता देखें कि बच्चे की लगन किस क्षेत्र में है, उसी दिशा में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करें। यूपीएससी के अलावा और भी क्षेत्र हैं, जिसमें आप सफल हो सकते हैं। चौहान ने कहा, मेरे बच्चों, किसी को हताश और निराश होने की जरूरत नहीं है। आपको वित्तीय सहायता से लेकर किसी और तरह की सहायता की आवश्यकता होगी, तो मैं आपके साथ सदैव खड़ा रहूंगा। आप http://mp.mygov.in पोर्टल पर अपने सुझाव दीजिये।

उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश से पहली बार संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा में 38 विद्यार्थी चयनित हुए हैं। इन प्रतिभाओं को मुख्यमंत्री चौहान ने कार्यक्रम में सम्मानित किया। सभी चयनित विद्यार्थियों को मंच पर स्थान दिया गया। कार्यक्रम में जनसम्पर्क विभाग द्वारा प्रकाशित "प्रतिभाओं का परचम" पुस्तिका का विमोचन भी किया गया।

From Around the web