भोपाल: मध्यप्रदेश ने वैक्सीनेशन में फिर बनाया नया कीर्तिमान

 
Madhya Pradesh again made a new record in vaccination
- एक दिन में रिकॉर्ड 25 लाख वैक्सीन डोज लगाये
- टीकाकरण महाअभियान-3 की सफलता के लिये मुख्यमंत्री ने माना सभी का आभार

भोपाल, 17 सितम्बर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिवस के अवसर पर मध्य प्रदेश में लक्षित समूह को वैक्सीन का प्रथम डोज शत-प्रतिशत लगाने और वैक्सीन के दूसरे डोज का कव्हरेज बढ़ाने के लिये शुक्रवार को टीकाकरण महाअभियान-3 चलाया गया। एक दिन में 25 लाख लोगों को वैक्सीन डोज लगाकर मध्यप्रदेश ने पुन: रिकॉर्ड कायम किया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेशवासियों को कोरोना से सुरक्षा कवच देने के लिये वैक्सीनेशन महाअभियान चलाये गये। आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्म-दिवस पर टीकाकरण महाअभियान-3 चलाकर 25 लाख से अधिक नागरिकों को सुरक्षा कवच प्रदान किया गया है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि 26 सितम्बर तक प्रत्येक पात्र व्यक्ति को वैक्सीन की पहली डोज लग जाए, इस दिशा में जो प्रयास किये जा रहे हैं, उसमें जन-भागीदारी भी एक महत्वपूर्ण पहलू है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में वैक्सीन के पर्याप्त डोज उपलब्ध हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सहयोग से प्रदेश को नि:शुल्क और आवश्यकतानुसार वैक्सीन उपलब्ध हो रही है।

मध्यप्रदेश में शुक्रवार को सभी जिलों में एक साथ टीकाकरण महाअभियान उत्साहपूर्ण वातावरण में शुरू हुआ। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल और विदिशा में टीकाकरण केन्द्रों पर जाकर नागरिकों को वैक्सीन लगाने के लिए प्रेरित भी किया। मुख्यमंत्री चौहान के लगातार प्रयासों और प्रदेश के जन-भागीदारी मॉडल को अपना कर टीकाकरण महाअभियान-3 को अपार सफलता मिली। एक दिन में 25 लाख से ज्यादा लोगों ने वैक्सीन लगाकर पुन: देश में अनूठा उदाहरण प्रस्तुत किया है।

Madhya Pradesh again made a new record in vaccination

कोरोना अभी गया नहीं है सजग रहे

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कोरोना अभी गया नहीं है, अत: सतर्कता और सजगता निरन्तर बनाये रखे। कोरोना रूपी संकट ने पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया है। हमारी प्राथमिकता कोरोना पर विजय प्राप्त करना है। कोरोना बहरूपिया है, जो अपना रूप बदलता रहता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने कोरोना काल में अपनों को खोया है, इसलिये हमारा सभी का यह प्रयास होना चाहिए कि ऐसा समय दोबारा न आये। सभी लोग वैक्सीन लगवा कर कोरोना संक्रमण से सुरक्षित हो।

टीकाकरण केन्द्रों पर उत्सव जैसा माहौल

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि टीकाकरण महाअभियान में कई जिलों में निर्धारित लक्ष्य से अधिक उपलब्धि अर्जित की गई है। प्रदेश के हर जिले में पर्याप्त संख्या में टीकाकरण केन्द्र स्थापित किये गये। आज सभी टीकाकरण केन्द्रों पर उत्सव जैसा माहौल देखने को मिला है। इसी का परिणाम है कि प्रदेश में आज रिकार्ड वैक्सीनेशन हुआ। लोग स्व-प्रेरणा से आगे आये और महाअभियान में अपनी भागीदारी सुनिश्चित की। मुख्यमंत्री ने जन-प्रतिनिधियों सहित विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के प्रमुखों, धर्मगुरूओं, साहित्यकारों, बुद्धिजीवियों और गणमान्य नागरिकों का धन्यवाद भी ज्ञापित किया, जिनके प्रयासों ने वैक्सीनेशन कार्य को गति प्रदान की।

बुजुर्गों और दिव्यांगों के लिए विशेष व्यवस्था

मुख्यमंत्री ने कहा कि टीकाकरण महाअभियान में लक्षित समूह को वैक्सीन लगाने की सभी केन्द्रों पर माकूल व्यवस्थायें की गई हैं। इसके साथ ही विशेष रूप से बुजुर्गों और दिव्यांगों के लिये स्थानीय प्रशासन द्वारा केन्द्र पर लाने और ले जाने के लिए वाहन की व्यवस्था भी की गई। प्रशासन से मिले सहयोग के साथ बुजुर्ग और दिव्यांग जनों ने वैक्सीनेशन के प्रति जागरूक होकर कोरोना संक्रमण से बचाव के लिये वैक्सीन लगवाई है। अनेक क्षेत्रों में बुजुर्गों और दिव्यांग जनों ने प्रेरक की भूमिका अदा कर लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिये प्रेरित भी किया। सम्पूर्ण प्रदेश में टीकाकरण महाअभियान में जो सकारात्मक वातावरण निर्मित हुआ है, उसमें समाज के विभिन्न वर्गों की भागीदारी अहम रही है।

सुबह 10 बजे से रात 9 बजे तक की रिपोर्ट

मुख्यमंत्री चौहान ने बताया कि टीकाकरण महाअभियान-3 के प्रति सभी लोगों ने वैक्सीनेशन के लिये जो उत्साह दिखाया, उससे प्रति घंटे वैक्सीनेशन का आँकड़ा लगातार बढ़ता चला गया। सुबह 10 बजे तक एक लाख 32 हजार 808, प्रात: 11 बजे तक तीन लाख 4 हजार 827, दोपहर 12 बजे तक 5 लाख 22 हजार 477, दोपहर 1 बजे तक 8 लाख 7 हजार 71, दोपहर 2 बजे तक 10 लाख 55 हजार 249, दोपहर 3 बजे तक 13 लाख 9 तिरी 704 और शाम 5 बजे तक 17 लाख 99 हजार 159, शाम 6 बजे तक 19 लाख 99 हजार 173, शाम 7 बजे तक 22 लाख 23 हजार 13, रात 8 बजे तक 23 लाख 79 हजार 830 और रात्रि 9 बजे तक लगभग 25 लाख नागरिकों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। टीकाकरण महाअभियान में हुआ वैक्सीनेशन का अंतिम आंकड़ा अभी आना बाकी है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि वैक्सीनेशन के यह आंकड़े साबित कर रहे हैं कि प्रदेश का हर नागरिक कोरोना संक्रमण के प्रति सजग हो चुका है। शीघ्र ही मध्यप्रदेश के शत-प्रतिशत लोग वैक्सीन के सुरक्षा कवच में आ जायेंगे।

क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों का सहयोग

कोरोना संक्रमण से प्रदेश के हर नागरिक को वैक्सीन का सुरक्षा कवच प्रदान के लिए जिला, ब्लाक एवं ग्राम और वार्ड स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों के सदस्यों ने भी महाअभियान में सक्रिय भूमिका निभाई। समिति के सदस्यों ने शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में जन-जागरूकता का काम करते हुए टीकाकरण केन्द्रों पर प्रेरक की भूमिका का निर्वहन भी किया।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने बताया कि मध्यप्रदेश में शुक्रवार को टीकाकरण महाअभियान में रात्रि 9 बजे तक 25 लाख से अधिक लोगों को टीके लगाए गए हैं। इससे पहले टीकाकरण महाअभियान-2 के लगभग 24 लाख 20 हजार के रिकॉर्ड से आगे निकलकर हमने नया रिकॉर्ड बनाया है। यह उपलब्धि टीकाकरण अभियान से जुड़े अधिकारी-कर्मचारियों और समाज के सभी वर्गों के सक्रिय सहयोग से संभव हुई है।

From Around the web