सार्वजनिक दुर्गा पूजा समिति ने किया फ्रंटलाइन वर्कर्स को सम्मानित

शारदीय नवरात्र के मौके पर मंगलवार को डोरंडा के 56 सेट स्थित सार्वजनिक दुर्गा पूजा समिति की ओर से फ्रंटलाइन वर्कर्स को सम्मानित किया गया। इस मौके पर समिति की ओर
 
Public Durga Puja Committee honored frontline workers
शारदीय नवरात्र के मौके पर मंगलवार को डोरंडा के 56 सेट स्थित सार्वजनिक दुर्गा पूजा समिति की ओर से फ्रंटलाइन वर्कर्स को सम्मानित किया गया। इस मौके पर समिति की ओर से सफाई-कर्मियों, बिजली कर्मियों और स्वास्थ्य कर्मियों को सम्मानित किया गया एवं कृतज्ञता प्रकट की गई।

Public Durga Puja Committee honored frontline workers


समिति के मुख्य संरक्षक आलोक कुमार दूबे, दुर्गा पूजा समिति के अध्यक्ष गोपी दूबे ने पूजा के मौके पर फ्रंटलाइन वर्कर्स को सम्मानित करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमणकाल में जिस तरह से 18 महीनों के दौरान उनकी ओर से समाज की सेवा की गयी, उसका कोई मोल नहीं दिया जा सकता है। सफाई कर्मियों ने बारिश, ठंड और गर्मी के मौसम में घर-घर एवं मुहल्लों की सफाई कर कोरोना संक्रमण के फैलाव पर अंकुश को लेकर महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।

दूसरी ओर बिजली कर्मियों ने दिन-रात हर वक्त खतरों से खेलते हुए बिजली आपूर्ति व्यवस्था को सुचारू रखने में अहम भूमिका निभायी। जबकि स्वास्थ्य कर्मी तो इस वैश्विक कोरोना संक्रमणकाल में देवदूत की तरह काम करते नजर आये। सभी के सहयोग से आज संक्रमण पर अंकुश लग सका है लेकिन अभी खतरा टला नहीं है और लोगों से सतर्क रहने की अपील की है।

डोरंडा के 56 सेट सार्वजनिक दुर्गा पूजा समिति ऐसी पहली संस्था है, जिसने नवरात्र में साफ-सफाई और बिजली आपूर्ति व्यवस्था को बहाल रखने में अहम भूमिका निभाने वाले फ्रंटलाइन वर्कर्स को सम्मानित करने का काम किया है।

आलोक दूबे ने कहा कि आपलोगों की वजह से पूरा शहर, प्रदेश इत्मीनान से त्योहार मनाते हैं। कभी कभी आपको कटु शब्दों को सुनना पड़ता है। समाज आपकी जितनी भी कृतज्ञता प्रकट करे वह कम होगी। रांची महानगर दुर्गा पूजा समिति के मुख्य संरक्षक आलोक दूबे ने राजधानी और राज्य के सभी पूजा पंडालों से निवेदन किया है कि वह फ्रंटलाइन कोरोनावायरस के प्रति कृतज्ञता अवश्य प्रकट करें। उन्होंने कहा कि हम सभी कोरोना वारियर्स फ्रंट लाइन वर्कर्स के साथ खड़े रहेंगे।

From Around the web