1 नवंबर से यह काम नहीं किया तो आप को नहीं मिलेगा एलपीजी सिलेंडर रसोई गैस कनेक्शन में हुआ भयंकर बदलाव

एलपीजी सिलेंडर की होम डिलीवरी की प्रक्रिया में अब बदलाव होने जा रहा है। 1 नवंबर से डोमेस्टिक सिलेंडर की चोरी रोकने और सही कस्टमर की पहचान के लिए तेल कंपनियां नया एलपीजी सिलेंडर का डिलिवरी सिस्टम लागू करने की तैयारी कर चुकी है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस नए सिस्टम को डीएसी का नाम
 
1 नवंबर से यह काम नहीं किया तो आप को नहीं मिलेगा एलपीजी सिलेंडर रसोई गैस कनेक्शन में हुआ भयंकर बदलाव

 एलपीजी सिलेंडर की होम डिलीवरी की प्रक्रिया में अब बदलाव होने जा रहा है। 1 नवंबर से डोमेस्टिक सिलेंडर की चोरी रोकने और सही कस्टमर की पहचान के लिए तेल कंपनियां नया एलपीजी सिलेंडर का डिलिवरी सिस्टम लागू करने की तैयारी कर चुकी है।

1 नवंबर से यह काम नहीं किया तो आप को नहीं मिलेगा एलपीजी सिलेंडर रसोई गैस कनेक्शन में हुआ भयंकर बदलाव

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस नए सिस्टम को डीएसी का नाम दिया जा रहा है

यानी कि डिलीवरी ऑथेंटिकेशन कोड। अब सिर्फ बुकिंग करा लेने भर से सिलेंडर की डिलीवरी नहीं होगी

बल्कि आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक कोड भेजा जाएगा

उस कोड को जब तक आप डिलीवरी बॉय को कोड नहीं दिखायेंगे

तब तक डिलीवरी पूरी नहीं होगी। हालांकि अगर कोई कस्टमर ऐसा भी है.

1 नवंबर से यह काम नहीं किया तो आप को नहीं मिलेगा एलपीजी सिलेंडर रसोई गैस कनेक्शन में हुआ भयंकर बदलाव

जिसने डिस्ट्रीब्यूटर को मोबाइल नंबर अपडेट नहीं कराया है तो डिलीवरी बॉय के पास के ऐप होगा

जिसके जरिए आप रियल टाइम अपना नंबर अपडेट करवा पाएंगे और उसके बाद कोड जनरेट कर सकेंगे।

इसके साथ ही ऐसे में उन कस्टमर्स की मुश्किलें बढ़ जाएँगी

जिनका एड्रेस गलत और मोबाइल नंबर गलत हैं तो इस वजह से उन लोगों की सिलेंडर की डिलीवरी रोकी जा सकती है।

1 नवंबर से यह काम नहीं किया तो आप को नहीं मिलेगा एलपीजी सिलेंडर रसोई गैस कनेक्शन में हुआ भयंकर बदलाव

तेल कंपनियां इस सिस्टम को पहले 100 स्मार्ट सिटी में लागू करने वाली हैं।

इसके बाद बाकि धीरे-धीरे दूसरी सिटी में भी लागू कर सकती हैं

जयपुर में इसका पायलट प्रोजेक्ट पहले से चल रहा है। 95 फीसदी से ज्यादा इस प्रोजेक्ट का सक्सेस रेट तेल कंपनियों को मिला है

From Around the web