कांग्रेस पार्टी से अलग हुड्डा चलाएंगे 'विपक्ष आपके समक्ष' कार्यक्रम

 
haryana former chief minister b s hooda

-करनाल से होगी सरकार को घेरने की शुरूआत

-सरकार की घेराबंदी के साथ हाईकमान को देंगे संदेश

चंडीगढ़, 23 सितम्बर । हरियाणा में कांग्रेस का कंट्रोल पूरी तरह से अपने हाथ में लेने की कवायद में लगे पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने अगले माह करनाल से ‘विपक्ष आपके समक्ष’ कार्यक्रम शुरू करने का ऐलान किया है। इस कार्यक्रम के माध्यम से हुड्डा प्रदेश सरकार को बेरोजगारी, किसानों, कर्मचारियों, भ्रष्टाचार तथा पेपर लीक मामले में घेरने का प्रयास करेंगे।

इस कार्यक्रम में कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा तथा उनके गुट के विधायक भाग लेंगे या नहीं यह अभी स्पष्ट नहीं है। कार्यक्रम को जनता का कितना समर्थन मिलता है यह तो अगले माह ही पता चलेगा अलबत्ता इस आयोजन के प्रदेश सरकार के साथ-साथ कांग्रेस हाईकमान के लिए कई मायने हैं। कांग्रेस हाईकमान के बदले हुए हालातों के बीच हुड्डा इस कार्यक्रम के माध्यम से हाईकमान को भी संदेश देने का प्रयास करेंगे।

haryana former chief minister b s hooda

भविष्य में किसी भी बड़े राजनैतिक फैसले से पहले हुड्डा ‘विपक्ष आपके समक्ष’ कार्यक्रम के माध्यम से प्रदेश भर का दौरा करके जनता की भी नब्ज टटोलने का प्रयास करेंगे, ताकि भविष्य में लिए जाने वाले किसी भी फैसले से पहले उन्हें धरातल की वास्तविक स्थिति का पता लग सके।

बृहस्पतिवार को चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत में भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि विपक्ष ने सरकार को चुनावी वादों पर अमल करने के लिए दो साल का समय दिया था। गठबंधन में शामिल दोनों दलों ने चुनावी घोषणा-पत्र में शामिल एक भी वादे को अभी तक पूरा नहीं किया। ऐसे में लोगों के बीच जाकर सरकार की पोल खोली जाएगी।

हुड्डा ने कहा कि ‘विपक्ष आपके समक्ष’ कार्यक्रम की शुरूआत 10 अक्तूबर को करनाल से होगी। इसके बाद सभी जिलों में यह कार्यक्रम होंगे। बेरोजगारी, बढ़ती महंगाई, किसान आंदोलन, भ्रष्टाचार व पेपर लीक के मुद्दों पर सरकार से जवाब मांगा जाएगा। पूर्व सीएम ने कहा कि कांग्रेस मुख्य विपक्षी दल होने के नाते जनता के प्रति जवाबदेह है। इसीलिए लोगों से सीधा संवाद किया जाएगा। बाकी दल व निर्दलीय सरकार में शामिल हैं। ऐसे में हमारी जिम्मेदारी बनती है हम सदन से लेकर सडक़ तक जनता की आवाज़ को उठाएं।

इस कार्यक्रम के तहत जनता के दुख-दर्द को सुनेंगे और उसकी आवाज को सदन से सडक़ तक बुलंद करेंगे। हम सरकार को चुनावी वादे पूरे करने के लिए मजबूर करेंगे। हुड्डा ने कहा कि भाजपा ने 2014 के चुनावी घोषणा-पत्र में स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करने और किसानों को उनकी लागत पर 50 प्रतिशत मुनाफा देने का ऐलान किया था। किसान पिछले 10 महीनों से सडक़ों पर हैं लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हो रही। जेजेपी ने कहा था कि किसानों को 100 रुपये प्रति क्विंटल बोनस दिया जाएगा, लेकिन आज एमएसपी पर भी खरीद नहीं हो रही।

From Around the web