नवीन उद्यान रोपण व नर्सरी स्थापना के लिए किसान करें आवेदन: जिला उद्यान अधिकारी

जिला उद्यान अधिकारी रामसिंह यादव ने सोमवार को बताया कि जिले में गंगा के तटवर्तीय क्षेत्रों में स्थित 6 विकास खंडों में तेलियानी, ऐराया, देवमयी, भिटौरा, हथगाम एवं मलवां के 43 ग्रामों में
 
Farmers should apply for new garden planting and nursery establishment District Horticulture Officer
जिला उद्यान अधिकारी रामसिंह यादव ने सोमवार को बताया कि जिले में गंगा के तटवर्तीय क्षेत्रों में स्थित 6 विकास खंडों में तेलियानी, ऐराया, देवमयी, भिटौरा, हथगाम एवं मलवां के 43 ग्रामों में 150 हेक्टेयर बागवानी (नवीन उद्यान रोपण) एवं एक नर्सरी स्थापना कार्यक्रम कराये जाने का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। इन कार्यक्रमों का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों से आवेदन आमंत्रित करने की अपील की गई है।
Farmers should apply for new garden planting and nursery establishment District Horticulture Officer


कार्यक्रम के अंतर्गत आम, अमरूद, आंवला, बेर, अनारा, शरीफा एवं कागजी नीबू उद्यान रोपण एवं नए बागों का रोपण किया जाना है। नवीन उद्यान रोपण के लिए प्रति कृषक न्यूनतम 0.2 हेक्टेयर से अधिकतम 1.0 हेक्टेयर क्षेत्रफल की सीमा तक मान्य होगी। नवीन रोपण संहत क्षेत्र (क्लस्टर अप्रोच) में सटे हुए क्षेत्र में न्यूनतम 10 हेक्टेयर तक के संहत क्षेत्र के रूप में कराया जाएगा।



उन्होंने बताया कि आगामी वर्षो में इन्हीं चयनित क्लस्टर्स में ही नवीन उद्यान रोपण कराकर क्लस्टर्स को न्यूनतम 25 हेक्टेयर तक विकसित कराए जाने, प्रत्येक लाभार्थी के बाग का प्रत्येक 3 माह में भौतिक सत्यापन किया जाएगा और भौतिक सत्यापन में रोपित उद्यानों में पौधों की जीवितता मानक के अनुसार जाने की स्थिति में अधिकतम तीन हजार रुपये प्रति माह प्रति हेक्टेयर की दर से केवल 36 माह तक लाभार्थी कृषकों को प्रोत्साहन राशि उनके बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी।



उन्होंने बताया कि कृषक जो कार्यक्रमों में लाभान्वित होना चाहते हैं। कृषक अपनी खतौनी, आधार कार्ड, बैंक पास बुक फोटोग्राफ, शपथ पत्र आवेदन के साथ कार्यालय में जमा कर सकते हैं। योजना प्रभारी जैनेन्द्र कुमार के मोबाइल नंबर 9807497636 अथवा कार्यालय में कार्य अवधि के दौरान संपर्क कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

From Around the web