गरुखूटी की घटना के विरोध में दरंग बंद का आह्वान

 
Darang bandh called in protest against Garukhuti incident

राष्ट्रीय राजमार्ग पर अवरोध करने वालों को पुलिस ने हटाया

दरंग (असम), 24 सितंबर दरंग जिला के सिपाझार थानांतर्गत गरुखूटी में अतिक्रमण हटाने गयी पुलिस और प्रशासन पर हमले के बाद विभिन्न संगठनों ने शुक्रवार को 12 घंटे के दरंग जिला बंद का आह्वान किया है।

इस बंद में आम्सू, अल्पसंख्यक संग्राम परिषद, इत्तेहाद फ्रंट, नेम्सू, मुस्लिम छात्र संस्था, जमीयत उलेमा-ए हिंद भी शामिल हैं। बंद के दौरान इन संगठनों के समर्थकों ने दलगांव में राष्ट्रीय राजमार्ग को अवरूद्ध कर यातायात को पूरी तरह से बंद कर दिया।

राजमार्ग अवरुद्ध किए जाने की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने बंद समर्थकों को वहां से हटाया। गरुखूटी की घटना के विरोध में दलगांव में सभी दुकानें बंद हैं।

उल्लेखनीय है कि अतिक्रमण हटाने गयी पुलिस एवं प्रशासन की टीम पर हजारों लोगों ने लाठी, डंडे, पत्थर, ईंट, दाव से आदि से हमला किया था। उपद्रवियों को काबू में करने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज और हवाई फायरिंग की थी।

घटना में दो उपद्रवियों की मौत हो गयी, जबकि नौ पुलिसकर्मी भी गंभीर रूप से घायल हुए हैं। मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्व सरमा ने घटना की गंभीरता को देखते हुए मामले की जांच का निर्देश दिया है

। साथ ही उन्होंने कहा है कि अतिक्रमण अभियान शुक्रवार को भी चलाया जाएगा। एक अनुमान के अनुसार पुलिस के अभियान के दौरान 600 से अधिक अतिक्रमणकारी परिवारों को हटाया गया है।

गरुखूटी की घटना पर कांग्रेस, राइजर दल, असम जातीय परिषद, एआईयूडीएफ समेत अन्य राजनीतिक संगठनों ने पुलिस और सरकार के कदम का विरोध किया है। वहीं सरकार से इस घटना की न्यायिक जांच की भी मांग की है।

From Around the web