केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री के इस्तीफे तक कांग्रेस का जारी रहेगा संघर्ष: प्रियंका वाड्रा

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने लखीमपुर खीरी की घटना को लेकर रविवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर सीधा हमला बोला। कहा कि लखीमपुर प्रकरण में 
 
Congress's struggle will continue till the resignation of Union Minister of State for Home: Priyanka Vadra
 कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने लखीमपुर खीरी की घटना को लेकर रविवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर सीधा हमला बोला। कहा कि लखीमपुर प्रकरण में पीड़ित परिवारों को न्याय मिलने और केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री के इस्तीफे तक पार्टी का संघर्ष जारी रहेगा। हम दमन से नही डरते, लड़ते रहेंगे, लड़ते रहेंगे।
Congress's struggle will continue till the resignation of Union Minister of State for Home: Priyanka Vadra

प्रियंका वाड्रा रोहनिया जगतपुर इंटर कॉलेज मैदान में पार्टी की ओर से आयोजित किसान न्याय रैली को सम्बोधित कर रही थी। रैली में पूर्वांचल के दस जिलों से आये कार्यकर्ताओं और किसानों की जुटी भीड़ से उत्साहित प्रियंका ने सोनभद्र के उंभाकांड को लेकर सरकार को घेरते हुए कहा कि पिछले हफ्ते से हम देख रहे हैं कि देश के केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे ने लखीमपुर में किसानों को निर्ममता से कुचल दिया। पूरी सरकार मंत्री और उनके बेटे को बचाने में लगी रही। पूरा प्रशासन विपक्ष को रोकने में लगा रहा। पीड़ित परिवारों को भी नजरबंद किया गया। अपराधियों को नहीं पकड़ा गया। अपराधियों को निमंत्रण भेजा कि आइये हमसे बात कीजिये। प्रियंका ने हमलावर तेवर में कहा कि पीड़ित परिवार का कहना है कि हमें पैसे नहीं चाहिए, मुआवजा नहीं चाहिए, हमें न्याय चाहिए। न्याय दिलवाने वाला कोई इस सरकार में नहीं दिख रहा।



उन्होंने कहा कि दुख की बात है किसानों से मिलने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अभी तक नहीं गए। प्रधानमंत्री दुनिया भर में घूम सकते हैं, देश- विदेश भ्रमण कर सकते हैं, लेकिन अपने देश के किसानों से भेंट करने नहीं जा सकते। प्रधानमंत्री लखनऊ आ सकते हैं। वो दो घंटे की दूरी पर लखीमपुर नहीं जा सकते पीड़ित किसानों के आंसू पोंछने के लिए।



प्रधानमंत्री आजादी का महोत्सव मना रहे



जनसभा में प्रियंका ने कहा कि प्रधानमंत्री आजादी का महोत्सव मनाते हैं,खुद सवाल किया कि ये आजादी किसने दी है। ये आजादी किसानों ने दी है, जिससे वे मिलने नहीं जाते हैं। आजादी की लड़ाई उनकी पार्टी कांग्रेस ने लड़ी। कांगेस के कार्यकर्ता किसी से डरते नहीं है। हम किसानों को न्याय दिलाने तक लड़ते रहेंगे। प्रियंका ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री ने गंगापुत्रों का अपमान किया है। किसान बुरी तरह परेशान हैं। बिजली के दाम तीन बार बढ़ा दिये गए हैं। बिजली नहीं मिल रही है लेकिन बिजली के बिल मिल रहे हैं। प्रदेश का हर किसान दुखी है। धान-गेहूं का दाम नहीं मिल रहा है। खेती के उपकरणों पर जीएसटी लगा रखी है। 100 रुपये का पेट्रोल, 90 का डीजल और हजार रुपये का गैस सिलेंडर मिल रहा है। कोयला खत्म हो रहा है। बेरोजगारी चरम पर है। जहां-जहां जाओ बेरोजगार युवा मिलते हैं। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि भाजपा सरकार में न दलित सुरक्षित हैं, न अल्पसंख्यक सुरक्षित हैं, न महिला सुरक्षित हैं, न नौजवान। इस देश में केवल प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री और उनसे जुड़े लोग और उनके खरबपति मित्र सुरक्षित हैं।



नये कृषि कानूनों के बहाने जमकर सरकार पर निशाना साधा



प्रियंका ने नये कृषि कानूनों के बहाने भी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के अरबपति मित्रों ने पिछले साल हिमाचल से सेब को 88 रुपये प्रति किलो खरीदे थे। लेकिन इस बार जब लागत महंगी है तो वही सेब 77 रुपये प्रति किलो खरीद रहे हैं। वो अपने मन से सेब के दाम तय कर रहे हैं। इससे किसानों का भला हुआ क्या?।



पूरी एयर इंडिया को बेच दिया

जनसभा में प्रियंका ने कोरोना काल के विभिषिका का उल्लेखकर कर कहा कि उस समय यदि कोई अस्पताल कहता था कि हमारे पास ऑक्सीजन नहीं है तो सरकार उन पर आक्रमण कर रही थी। उसके बाद हाथरस का हादसा हुआ,जिसमें सबने देखा कि सरकार ने अपराधियों पर आक्रमण नहीं किया। सरकार ने पीड़ित परिवार को चिता जलाने तक नहीं दी। कोरोना के समय तमाम छोटे व्यपारी को रोजगार बंद करना पड़ा। सरकार ने राहत नहीं दी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दो हवाई जहाज खरीदे। 16 हजार करोड़ का दो हवाई जहाज खरीद और अपने दोस्तों को फायदा पहुंचाने के लिए सरकार ने पूरी एयर इंडिया को 15 हजार करोड़ में ही अपने पूंजीपति और खरबपति मित्र को बेच दी। आप लोग समझ सकते हैं कि इस देश में हो क्या रहा है।



अपने से सवाल पूछिए



जनसभा में प्रियंका ने उपस्थित लोगों से कहा कि खुद अपने अंतरतम में झांकिए एक सवाल पूछिये। तरक्की आयी है। विकास आपके द्वार आया कि नहीं। जीवन में तरक्की नहीं हुई तो मेरे साथ कंधा से कंधा मिलाकर सरकार को बदलिए। जो आपको आतंकवादी कहते हैं उनको न्याय देने के लिए मजबूर करिये। जनसभा में बोलने के पहले प्रियंका गांधी ने दुर्गा देवी के मंत्रों का उच्चारण किया। जनसभा को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पूर्व केन्द्रीय मंत्री दीपेंद्र हुड्डा, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू , पूर्व विधायक अजय राय ने भी सम्बोधित किया। वाराणसी के पूर्व सांसद डॉ राजेश मिश्र ने अतिथियों का स्वागत किया।

 

From Around the web