पल्स पोलियो अभियान शुरू, पांच लाख बच्चों को दी जाएगी दो बूंद जिंदगी की

 
FIVE DAY PULSE POLIO CAMPAIGN BEGINS

बेगूसराय, 26 सितम्बर। भारत को पोलियो मुक्त बनाने के लिए एक बार फिर रविवार से पांच दिवसीय पल्स पोलियो अभियान शुरू हो गया। सिविल सर्जन डॉ. विनय कुमार झा ने जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. गोपाल मिश्रा एवं डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ. गीतिका शंकर समेत अन्य अधिकारियों के साथ सदर अस्पताल में नवजात को दवा पिलाकर अभियान का शुरुआत किया।

पल्स पोलियो सप्लीमेंटरी इम्यूनाईजेशन एक्टिविटी (एसआईए) माइक्रो प्लान के अनुसार इस राउंड में चार लाख 98 हजार 660 बच्चों को पोलियो का दवा पिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके लिए 1293 चलंत टीम (गृह भ्रमण दल) छह लाख 5932 घरों में जाकर पोलियो की दवा पिलाएंगे। 26 सितम्बर से एक अक्टूबर तक अभियान चलाने के बाद छूटे बच्चे को तीन अक्टूबर को बी टीम ड्रॉप देंगे। अभियान के सफल संचालन के लिए 533 सुपरवाइजर, 182 ट्रांजिट टीम, 56 मोबाइल टीम एवं 34 वन मैन टीम को लगाया गया है।

FIVE DAY PULSE POLIO CAMPAIGN BEGINS

डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ. गीतिका शंकर ने बताया कि शून्य से पांच वर्ष तक के सभी बच्चों को दवा हर हाल में पिलाई जाएगी। पल्स पोलियो अभियान आज से लगातार चलेगा, 29 सितम्बर को जीवित्पुत्रिका व्रत रहने कारण महिला कर्मियों को होने वाली परेशानी को ध्यान मेंं रखते हुए दवा पिलाने का काम बंद रहेगा। एक अक्टूबर को अभियान समाप्त होने के बाद दो अक्टूबर को बी टीम द्वारा छूटे बच्चोंं को पोलियो ड्रॉप देना था। लेकिन उस दिन बेगूसराय जिला स्थापना दिवस के अवसर पर कोरोना टीकाकरण महाअभियान चलेगा, इसलिए बी टीम द्वारा छूटे बच्चों को तीन अक्टूबर को ड्रॉप दिया जाएगा। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. गोपाल मिश्रा ने बताया कि अभियान के सफल संचालन के लिए कई स्तरों पर निगरानी टीम बनाई गई है।

अभियान के तहत दवाई की किल्लत नहीं हो इसके लिए सब डीपो बनाया गया है। सभी क्षेत्र का गहन अनुश्रवण किया जायेगा, हमारा उद्देश्य है एक भी बच्चा पोलियो खुराक से वंचित नहीं रहे, क्योंकि एक भी बच्चा छूट गया तो पोलियो चक्र टूट गया। उन्होंने बताया कि बछवाड़ा में 34481, बखरी में 27261, बलिया में 33048, बरौनी में 40409, बेगूसराय ग्रामीण में 49186, बेगूसराय शहरी में 41678, भगवानपुर में 26511, वीरपुर में 15390, छौड़ाही में 18752, चेरिया बरियारपुर में 24771, डंडारी में 14461, गढ़पुरा में 18638, खोदावंदपुर में 13938, मंसूरचक में 14957, मटिहानी में 23181, नावकोठी में 20191, साहेबपुर कमाल में 32382, शाम्हो में 5484 तथा तेघड़ा में 43941 बच्चों को दवा पिलाने का लक्ष्य रखा गया है।

From Around the web