बिहार पंचायत चुनाव के पहले चरण का मतदान शुक्रवार को

 
Panchayat elections on Friday
-दस जिलों के 12 प्रखंडों की पंचायतों में होगी वोटिंग
-सुबह सात से शाम पांच बजे तक डाले जाएंगे वोट
-26 और 27 को होगी पंचायत चुनाव की मतगणना
पटना, 23 सितंबर। पंचायत चुनाव के पहले चरण का मतदान शुक्रवार को होगा। पहले चरण में दस जिलों के 12 प्रखंडों में मतदान होना है। 24 सितंबर को रोहतास जिले के दावथ और संझौली, कैमूर जिले के कुदरा, गया के बेलागंज व खिजरसराय, नवादा के गोविंदपुर, औरंगाबाद के औरंगाबाद, जहानाबाद के काको, अरवल के सोनभद्र-बंशी-सूर्यपुर, मुंगेर के तारापुर, जमुई के सिकंदरा और बांका जिले के धोरैया प्रखंड में चुनाव कराया जाएगा।

सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक वोटिंग होगी, जबकि 26-27 सितंबर को मतगणना होगी। पहले चरण में 15,328 उम्मीदवारों ने विभिन्न पदों के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया है। इनमें से 858 पदों पर उम्मीदवारों का निर्विरोध निर्वाचन हो चुका है। 72 पदों पर किसी भी उम्मीदवार ने नामांकन पत्र दाखिल नहीं किया। पहले चरण में किए गए कुल नामांकन 15328 में से पुरुष उम्मीदवार की संख्या 7,235 है जबकि कुल 8,093 महिला उम्मीदवारों ने नामांकन किया है।
Panchayat elections on Friday
राज्य निर्वाचन आयोग ने पहले चरण के लिए 1,609 मतदान भवनों में 2119 मतदान केंद्र बनाए हैं। वोटिंग से जुड़ी समस्याओं और जानकारी के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने 1800-3457-243 हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। इसके साथ ही ट्विटर और फेसबुक पर भी वोटर राज्य निर्वाचन आयोग से संपर्क कर सकते हैं। पंचायत चुनाव में पहली बार मतगणना जिला मुख्यालयों में होगी। मतदान के बाद ईवीएम और मतपेटिका को वज्रगृह में डिजिटल लॉक किया जाएगा। मतगणना के दिन वज्रगृह खुलने से ईवीएम और मतपेटिका को टेबल तक रखने तक लाइव देखने की व्यवस्था की गई है। ईवीएम में किस उम्मीदवार को कितने मत मिले, यह दिखाना होगा। इसे बड़े स्क्रीन पर अधिकारी देखेंगे।

बिना मास्क के अगर कोई वोट देने जाएगा तो उसे 50 रुपये जुर्माना देना होगा। मतदान केंद्रों पर आयोग की ओर से भी मास्क का प्रबंध रहेगा। इसके बाद भी अगर कोई निर्देशों का उल्लंघन करता है तो फिर आपदा प्रबंधन अधिनियम और भारतीय दंड संहिता के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

From Around the web