ज़ांस्कर पर्वतमाला की 7,077 मीटर ऊंची माउंट कुन चोटी पर चढ़ी 16 सदस्यीय टीम

कारगिल में 7,077 मीटर की ऊंचाई पर ज़ांस्कर पर्वतमाला की माउंट कुन चोटी पर चढ़ाई पूरी करके अरुणाचल प्रदेश के राष्ट्रीय पर्वतारोहण और संबद्ध खेल संस्थान (निमास
 
A 16 member team climbed the 7077 meter high Mount Kun peak

कारगिल में 7,077 मीटर की ऊंचाई पर ज़ांस्कर पर्वतमाला की माउंट कुन चोटी पर चढ़ाई पूरी करके अरुणाचल प्रदेश के राष्ट्रीय पर्वतारोहण और संबद्ध खेल संस्थान (निमास) की 16 सदस्यीय टीम ने इतिहास रच दिया है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को कठिन मौसम की स्थिति में सफलतापूर्वक पर्वतारोहण अभियान पूरा करने के लिए टीम को बधाई देते हुए कहा कि इस तरह के अभियान युवाओं में साहस और देशभक्ति की भावना को बढ़ावा देंगे।

A 16 member team climbed the 7077 meter high Mount Kun peak
निमास रक्षा मंत्रालय के तत्वावधान में कार्यरत एक प्रमुख पर्वतारोहण संस्थान है। रक्षा मंत्री इसके अध्यक्ष और अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री उपाध्यक्ष हैं। यह पर्वतारोहण अभियान 15 जुलाई, 2021 और 10 अगस्त, 2021 के बीच आयोजित किया गया था। ज़ांस्कर घाटी की चोटी पर चुनौतीपूर्ण चढ़ाई तकनीकी रूप से कठिन है। टीम ने शेरपाओं और पर्वतारोहियों की मदद लिए बिना अपने आप ही अभियान पूरा किया। 16 पर्वतारोहियों में नौ सेना कर्मी और सात अरुणाचल प्रदेश के स्थानीय युवा शामिल थे। यह अभियान आजादी के 75वें वर्ष के उपलक्ष्य में देश भर में मनाए जा रहे 'आजादी का अमृत महोत्सव' का हिस्सा था। इस अभियान का उद्देश्य देशभक्ति, साहस और रोमांच की भावना पैदा करना और 'फिट इंडिया मूवमेंट' को बढ़ावा देना था।

रक्षा मंत्री ने जोर देकर कहा कि इस तरह के आयोजन देश की रक्षा और सुरक्षा को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। इस तरह के आयोजनों से हम सीमा सुरक्षा और इसकी चुनौतियों के बारे में अधिक जान सकते हैं। हमारी सेना ने इस तरह की गतिविधियों को काफी प्रोत्साहन दिया है। रक्षा मंत्री ने इस तरह की गतिविधियों को प्रोत्साहित करने की आवश्यकता पर जोर देते हुए इसमें आम जनता की भागीदारी बढ़ाने का सुझाव दिया, क्योंकि इस तरह के अभियान पर्यटन, रोजगार, ज्ञान एकत्र करने और अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में एक प्रमुख भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने इन प्रयासों में सरकार के हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया।

राजनाथ सिंह ने तीनों क्षेत्रों अर्थात भूमि, वायु और जल में साहसिक पाठ्यक्रमों में प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए निमास की भी सराहना की। उन्होंने कहा कि यह संस्थान एकता और अखंडता का जीता जागता उदाहरण है। इसी संस्थान ने हाल ही में म्यांमार, थाईलैंड, मलेशिया और सिंगापुर में माउंटेन टेरेन बाइकिंग अभियान आयोजित किया है। उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजन न केवल खेल भावना को बढ़ावा देते हैं, बल्कि मित्र देशों के साथ भारत के संबंधों को भी मजबूत करते हैं। इस अवसर पर रक्षा मंत्री ने टीम के सदस्यों को भागीदारी का प्रमाण पत्र भी सौंपा और शुभकामनाएं दीं।

From Around the web