केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में बंद का जयपुर में नहीं दिखा असर

 
Bandh did not show effect in Jaipur in protest against central agricultural laws

जयपुर, 27 सितम्बर  केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में जारी किसान आंदोलन के तहत संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर सोमवार को भारत बंद का राजधानी जयपुर में असर देखने को नहीं मिला।

राजधानी जयपुर में सोमवार को भारत बंद के समर्थन में उतरे तमाम किसान और श्रमिक संगठन सुबह 10 बजे शहीद स्मारक पर एकत्रित हुए और फिर इसके बाद अलग-अलग टोलियों में बंटकर रैलियां निकाली गईं।

ये टोलियां तमाम बाज़ारों में घूम-घूमकर दुकानें और अन्य सभी प्रतिष्ठानों को बंद करवाने का प्रयास करते देखे गए, लेकिन राजधानी के तमाम बाजारों में चहल पहल जारी रही।

भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष राजाराम मील ने बताया कि सोमवार सुबह 6 बजे से ही प्रदेशभर में किसान और जवानों की टोलियां बंद कराने के लिए अलग-अलग इलाकों में निकली और इस दौरान

आमजन को तीनों केंद्रीय कृषि कानून की खामियों से अवगत भी करा कर बताया गया कि यह कानून किसानों के लिए किस तरह नुकसानदायक है। इस भारत बंद में किसान संगठनों के साथ ही कांग्रेस पार्टी ने पूरा समर्थन दिया है।

मील ने बताया कि केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के आंदोलन को पूरे 10 महीने हो गए हैं। लेकिन अब भी केंद्र सरकार और किसानों के बीच गतिरोध बना हुआ है

। ये बंद भारत के लोकतंत्र की रक्षा के लिए एक आंदोलन की श्रृंखला में एक कवायद है। इस भारत बंद में अस्पताल,दवा की दुकान, एंबुलेंस समेत अन्य मेडिकल से जुड़ी सभी सेवाओं,

परीक्षा या इंटरव्यू में जाने वाले छात्रों-अभ्यर्थियों सहित फायर ब्रिगेड,व्यक्तिगत इमरजेंसी जैसी जैसे कार्यों को छूट रही है। किसान संगठनों कहना है कि सभी कार्यकर्ताओं को निर्देश दिए गए हैं

कि भारत बंद का समर्थन करने के लिए किसी के साथ कोई जोर-जबरदस्ती ना की जाए। लोगों से स्वेच्छा से सब कुछ बंद करने की अपील की जाए।

Bandh did not show effect in Jaipur in protest against central agricultural laws

From Around the web