रोहिणी कोर्ट हत्याकांड: दो आरोपित गिरफ्तार

 
Rohini court murder:Two accused arrested

नई दिल्ली, 26 सितंबर  रोहिणी कोर्ट में शुक्रवार को हुई कुख्यात बदमाश जितेंद्र गोगी की हत्या के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। इस हत्याकांड की साजिश सुनील उर्फ टिल्लू द्वारा मंडोली जेल से रची गई थी। गिरफ्तार आरोपितों की पहचान 22 वर्षीय उमंग और 19 वर्षीय विनय के रूप में हुई है। इनके पास से वह कार भी बरामद हुई है, जिसमें सवार होकर हमलावर कोर्ट तक पहुंचे थे।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार दोपहर रोहिणी कोर्ट संख्या 207 में वकील की पोशाक पहने दो लोगों ने कुख्यात बदमाश जितेंद्र गोगी पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाई थी। इसके चलते इस घटना में उसकी मौत हो गई थी। जवाबी कार्रवाई में दिल्ली पुलिस की तरफ से भी हमलावरों पर गोली चलाई गई थी जिसमें दोनों हमलावर ढेर हो गये। मारे गए बदमाशों की पहचान राहुल और जगदीप के रूप में हुई थी। प्राथमिक जांच में पुलिस को पता चला कि यह दोनों टिल्लू के शूटर थे। इस बाबत प्रशांत विहार थाने में हत्या एवं आर्म्स एक्ट का मामला दर्ज किया गया था। इस मामले की जांच अपराध शाखा द्वारा की जा रही है।

पुलिस सूत्रों की मानें तो इस मामले में स्पेशल सेल की टीम को छानबीन में पता चला था कि नरेश कुमार उर्फ सोनू टिल्लू का खास शार्प शूटर है। बीते कुछ समय से उसका साथी उमंग भी टिल्लू के लिए काम कर रहा है। इस जानकारी पर स्पेशल सेल की टीम ने 22 वर्षीय उमंग और 19 वर्षीय विनय को गिरफ्तार किया है। उमंग ने पुलिस को बताया कि राहुल त्यागी और जगदीप जग्गा 20 सितंबर को हैदरपुर स्थित उसके घर पहुंचे थे। उसका दोस्त विनय उन्हें एक मार्केट में ले गया था जहां से उन्होंने वकील के कपड़े खरीदे थे। उस समय से दोनों हमलावर उसके घर पर ही ठहरे थे। 22 सितंबर को उन्होंने घर पर पार्टी भी की थी।

उमंग ने पुलिस को बताया कि वारदात वाले दिन सुबह करीब 10.15 बजे वह रोहिणी कोर्ट में आई-10 कार में सवार होकर पहुंचे थे। गाड़ी में उसके अलावा विनय, राहुल, जगदीप और एक अन्य साथी मौजूद था। यहां पर उन्होंने दोनों हमलावरों को रोहिणी कोर्ट के बाहर उतारा और गाड़ी बाहर खड़ी कर दी। वह उन्हें कोर्ट संख्या 207 तक ले गए जहां पर गोगी की पेशी होनी थी। इसके बाद वह कोर्ट से बाहर निकल आये और वहां से गाड़ी में सवार होकर फरार हो गए थे। बीते दिसंबर महीने में राहुल ने अपने चार अन्य साथियों के साथ मिलकर गोगी के साथी भरत सोलंकी उर्फ युगीन को रोहिणी सेक्टर 24 में मारा था। इस हत्याकांड में उसकी गिरफ्तारी पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित था। इसके अलावा सोनीपत में हुई एक हत्या में जगदीप के शामिल होने की बात भी सामने आई है।

पुलिस को मारे गए आरोपित राहुल के पास से एक मोबाइल फोन मिला है, लेकिन उसमें सिम कार्ड नहीं था। उसके मोबाइल पर गोली लगी थी, जिसकी वजह से मोबाइल भी क्षतिग्रस्त हो चुका था। उसकी जेब से पुलिस को 210 रुपये नगद भी बरामद हुए हैं। इस मामले में दो आरोपितों की गिरफ्तारी के बाद अब पुलिस जल्द ही मंडोली जेल में बंद सुनील मान उर्फ टिल्लू को रिमांड पर लाकर इस मामले में उसकी गिरफ्तारी करेगी। पुलिस को पता चला है कि मंडोली जेल से उसने ही गोगी की हत्या के लिए पूरी साजिश रची थी।

Rohini court murder:Two accused arrested
 

From Around the web