मायापुरी सिलेंडर ब्लास्ट : पांच लोगों की मौत

पश्चिमी दिल्ली के मायापुरी इलाके में बीते 28 सितम्बर को सिलेंडर लीक होने से आग लग गई थी। आग में हुए धमाके में पांच लोगों की मौत हो चुकी है। इस मामले में एक घायल ने आज इलाज के दौरान दम तोड़ा।

 
Mayapuri cylinder blast: Five Death
नई दिल्ली, 06 अक्टूबर । पश्चिमी दिल्ली के मायापुरी इलाके में बीते 28 सितम्बर को सिलेंडर लीक होने से आग लग गई थी। आग में हुए धमाके में पांच लोगों की मौत हो चुकी है। इस मामले में एक घायल ने आज इलाज के दौरान दम तोड़ा। मृतका की पहचान लाली के रूप में हुई, जबकि एक अक्टूबर को राम छल्ला और चार अक्टूबर को विमल व बिट्टू की मौत हुई थी। इससे पहले 30 सितम्बर को श्रवण की मौत हुई थी।

28 सितम्बर को घटी थी घटना

28 सितम्बर को पश्चिमी जिले के मायापुरी स्थित एक झुग्गी में तड़के करीब साढ़े तीन बजे सूचना मिली कि मायापुरी के रेवाड़ी लाइन के पास झुग्गी में आग लग गई है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। तब तक आग में झुलसे पांच घायलों को पीसीआर वैन और एंबुलेंस से दीनदयाल उपाध्याय (डीडीयू) अस्पताल में भर्ती कराया जा चुका था। सभी 90 फीसदी से ज्यादा झुलस गए थे। डॉक्टरों ने घायलों का प्राथमिक इलाज करने के बाद सभी को सफदरजंग अस्पताल में रेफर कर दिया था। घायलों की पहचान रामछल्ला, विमल यादव, बिट्टू, लाली और उसके पति श्रवण के रूप में हुई थी।

पड़ोसी को सूचना देने जा रहे थे दंपत्ति

घटनास्थल पर छानबीन और आस पास के लोगों से पूछताछ के बाद पुलिस को पता चला कि रामछल्ला, विमल और बिट्टू एक झुग्गी में रहते थे, जबकि लाली अपने पति श्रवण के साथ पड़ोस की झुग्गी में रहती थी। देर रात करीब सवा तीन बजे लाली और उसके पति को रसोई गैस की दुर्गंध महसूस हुई। लाली ने अपने गैस सिलिंडर की जांच की। सिलिंडर बंद था और वहां से कोई दुर्गंध नहीं आ रही थी। लाली और उसके पति ने पड़ोस की झुग्गी का दरवाजा खटखटाया।
Mayapuri cylinder blast: Five Death
रामछल्ला ने जैसे ही दरवाजा खोलकर लाइट जलाई अचानक से तेज धमाका हुआ और आग की लपटें निकलने लगी। झुग्गी में आग लग गई, जिसकी चपेट में झुग्गी में मौजूद तीन लोगों के अलावा दंपति भी आ गए। शोर शराबा होते ही अन्य झुग्गियों से लोग बाहर निकले और आग की लपटों में घिरे लोगों की आग बुझाने के बाद पुलिस को घटना की जानकारी दी। सभी बुरी तरह से झुलस गए थे।

From Around the web