इस बजट से व्यापार जगत में खुशी का माहोल, चैम्बर ने किया दिल से स्वागत

बुधवार को राज्य विधानसभा में वित्तमंत्री तरुण भनोट द्वारा प्रस्तुत किए गए बजट 2019-20 में किसी भी प्रकार का नवीन कर नहीं लगाए जाने से अवश्य ही महँगाई नियंत्रित रहेगी और साथ ही, ग्वालियर में डेयरी कॉलेज और खाद्य प्रसंस्करण विश्वविद्यालय खोले जाने की घोषणा का चेम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष, विजय गोयल, संयुक्त अध्यक्ष
 
इस बजट से व्यापार जगत में खुशी का माहोल, चैम्बर ने किया दिल से स्वागत

बुधवार को राज्य विधानसभा में वित्तमंत्री तरुण भनोट द्वारा प्रस्तुत किए गए बजट 2019-20 में किसी भी प्रकार का नवीन कर नहीं लगाए जाने से अवश्य ही महँगाई नियंत्रित रहेगी और साथ ही, ग्वालियर में डेयरी कॉलेज और खाद्य प्रसंस्करण विश्‍वविद्यालय खोले जाने की घोषणा का चेम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष, विजय गोयल, संयुक्त अध्यक्ष प्रशांत गंगवाल, उपाध्यक्ष पारस जैन, मानसेवी सचिव डॉ. प्रवीण अग्रवाल, मानसेवी संयुक्त सचिव ब्रजेश गोयल एवं कोषाध्यक्ष वसंत अग्रवाल ने स्वागत किया है।

इस बजट से व्यापार जगत में खुशी का माहोल, चैम्बर ने किया दिल से स्वागत

बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए व्यापारियों की सर्वोच्च संस्था के पदाधिकारियों ने वित्तमंत्री द्वारा बजट भाषण में एमएसएमई सेक्टर के लिए नई योजना लाए जाने का उल्लेख करने पर राज्य सरकार से यह माँग भी की है कि- एमएसएमई सेक्टर के लिए नवीन पॉलिसी बनाने से पूर्व, सरकार द्वारा प्रदेश के सभी चेम्बर ऑफ कॉमर्स एवं उद्योग संगठनों से चर्चा की जाए और उसके पश्‍चात प्राप्त सुझावों का समावेश करने के उपरांत ही नवीन योजना को फायनल किया जाए।

इस बजट से व्यापार जगत में खुशी का माहोल, चैम्बर ने किया दिल से स्वागत

उल्लेखनीय है कि, मध्यप्रदेश में नवगठित कांग्रेसनीत कमलनाथ सरकार ने राज्य का बुधवार को पहला बजट पेश किया है। इस सरकार को राज्य का खजाना खाली मिला है। यही नहीं हाल ही में केन्द्र सरकार ने अपने बजट में इस राज्य को दी जाने वाली राशि में 2700 करोड़ की कटौती भी कर दी है।

साफ है कि सरकार पर अर्थ का जबरदस्त भार और तनाव रहने वाला है। इसहे वाबजूद किसी तरह का कर बजट में नहीं थोपा गया, जनता पर कोई नया भार नहींं डाला गया। इसके चलते जहां हर तरफ कल से बजट का स्वागत हो रहा है वहीं अब विपक्ष बजट के खिलाफ मुंह तक न खोल सका।

From Around the web