आज ही इन चीनी ऐप्स के बजाय करें इन भारतीय ऐप्स का इस्तेमाल , जानें नाम

भारत और चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर देश भर में विरोध प्रदर्शन जारी है। चीनी स्मार्टफोन से लेकर मोबाइल ऐप का बहिष्कार किया जा रहा है। साथ ही, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर बॉयकॉट चाइनीज प्रोडक्ट ’अभियान चलाए जा रहे हैं। हाल ही में भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार से Tiktok और Helo जैसे
 
आज ही इन चीनी ऐप्स के बजाय करें इन भारतीय ऐप्स का इस्तेमाल , जानें नाम

भारत और चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर देश भर में विरोध प्रदर्शन जारी है। चीनी स्मार्टफोन से लेकर मोबाइल ऐप का बहिष्कार किया जा रहा है। साथ ही, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर  बॉयकॉट चाइनीज प्रोडक्ट ’अभियान चलाए जा रहे हैं। हाल ही में भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार से Tiktok और Helo जैसे चीनी ऐप्स को ब्लॉक करने की सिफारिश की थी।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें

ऐसे में अगर आपने भी अपने फोन से चाइनीज एप को चाइना का बहिष्कार करने के लिए हटा दिया है

और इन एप्स का विकल्प तलाश रहे हैं तो यह खबर आपके लिए है।

आज हम आपको यहां कुछ चुनिंदा मोबाइल एप्स के बारे में बताएंगे,

जिनका इस्तेमाल चीनी मोबाइल एप के विकल्प के रूप में किया जा सकता है। आइए एक नजर डालते हैं इन मोबाइल एप्स पर …

आज ही इन चीनी ऐप्स के बजाय करें इन भारतीय ऐप्स का इस्तेमाल , जानें नाम

टिक-टोक की जगह इस एप का इस्तेमाल करें आप टिक-टॉक के बजाय रोपोसो मोबाइल एप का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इस ऐप में, आप टिक-टॉक जैसे वीडियो बना सकते हैं और इसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर साझा कर सकते हैं।

वहीं, अब तक 50 लाख से ज्यादा यूजर्स इस एप को गूगल प्ले स्टोर पर डाउनलोड कर चुके हैं।

हैलो के बजाय शेयर चैट ऐप का उपयोग करें हालांकि चीनी ऐप हेलो का लोगों द्वारा जमकर इस्तेमाल किया गया है,

लेकिन अब इसका बहिष्कार किया जा रहा है।

अगर आपने भी इस ऐप को खुद से डिलीट कर दिया है,

तो आप इसके बजाय शेयर चैट ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं।

आपको बता दें कि यह ऐप भारतीय है और 15 क्षेत्रीय भाषाओं में कंटेंट उपलब्ध कराता है।

From Around the web