स्टेट यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी शुरू कर रहा डिजिटल हेल्थ कोर्स

 
University of Technology start digital health course

कोलकाता, 16 सितंबर (हि.स.)। मौलाना अबुल कलाम आजाद यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी (मकाऊट) ने इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट शिक्षा में पुनर्जागरण लाने के लिए 'डिजिटल हेल्थ' नामक एक अत्याधुनिक कोर्स शुरू कर रहा है। स्टेट यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी के वाइस चांसलर सैकत मैत्रा ने कहा कि उनके द्वारा चलाए जा रहे कॉलेजों में कोर्स पढ़ाया जाएगा।

कोरोना ने लोगों के जीवन पर अमिट छाप छोड़ी है। इतना ही नहीं खुले में चिकित्सा व्यवस्था भी बदल गई है। पहले बीमारी होने पर डॉक्टर के पास जाना आसान था। लेकिन कोरोना की वजह से डॉक्टर के चैंबर या अस्पताल में जाने से कुछ रुकावटें पैदा हुई हैं। इस बीच देश भर में इलाज के लिए जरूरी अस्पतालों और डॉक्टरों की संख्या भी काफी कम है। ऐसे में चिकित्सा सेवा को चालू रखने के लिए टेली-मेडिसिन सेवा सबसे विश्वसनीय माध्यम बन गई है। इसकी मांग भी धीरे-धीरे बढ़ रही है। कई मामलों में, रोगी को किसी दूरस्थ गांव या शहर के बड़े अस्पताल में स्थानांतरित करना मुश्किल होता है। उस समस्या को हल करने के लिए डिजिटल स्वास्थ्य सेवाओं की आवश्यकता है। जिससे बिना मरीज को ट्रांसफर किए डिजिटल हेल्थ सिस्टम के जरिए सेवाएं देना संभव है।

जिलों और ब्लॉक में डिजिटल सेंटर स्थापित कर मरीजों की सारी जानकारी वहां रखी जाएगी. उस डिजिटल सेंटर के माध्यम से मरीज की जानकारी शहर के किसी भी बड़े अस्पताल या शहर से बाहर के किसी भी अस्पताल में पहुँच जाएगी।  

University of Technology start digital health course

From Around the web