पूर्व क्रिकेटर ने बढ़ाई कांग्रेस की टेंशन, अपनी पूर्व लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने पर अडिग

कांग्रेस के लिए टेंशन बढ़ती ही जा रही है, खासकर बिहार के महागठबंधन मे मिली सीटों को लेकर। बता दें कि बिहार महागठबंधन में कांग्रेस के साथ राजद, हम, रालोसपा और वीआईपी पार्टियों के साथ सीटें बंटवारा हुई है लेकिन कांग्रेसी उम्मीदवार को पसंदीदा सीट नहीं मिली है, इसमें सबसे खास है भाजपा छोड़कर कांग्रेस
 
पूर्व क्रिकेटर ने बढ़ाई कांग्रेस की टेंशन, अपनी पूर्व लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने पर अडिग
कांग्रेस के लिए टेंशन बढ़ती ही जा रही है, खासकर बिहार के महागठबंधन मे मिली सीटों को लेकर। बता दें कि बिहार महागठबंधन में कांग्रेस के साथ राजद, हम, रालोसपा और वीआईपी पार्टियों के साथ सीटें बंटवारा हुई है लेकिन कांग्रेसी उम्मीदवार को पसंदीदा सीट नहीं मिली है, इसमें सबसे खास है भाजपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए पूर्व क्रिकेटर कृर्ति आजाद का।

पूर्व क्रिकेटर ने बढ़ाई कांग्रेस की टेंशन, अपनी पूर्व लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने पर अडिग

कांग्रेस में शामिल हुए दरभंगा सांसद कीर्ति आजाद अपनी सीट से लड़ने के लिए अड़े हुए हैं, जबकि दरभंगा सीट राजद के पाले में है और पार्टी यहां से अब्दुल बारी सिद्दीकी को लड़ाना चाहती है। सांसद कीर्ति झा आजाद बाल्मिकीनगर से चुनाव नहीं लड़ना चाहते हैं।

कांग्रेस के लिए मधेपुरा, दरभंगा, सुपौल जैसी सीटें महागठबंधन के लिए सिरदर्द बनी ही हुई थी कि पटना साहिब सीट का टशन भी कांग्रेस के लिए टेंशन बन गया। अब देखना है कि कांग्रेस इस टेंशन से कैसे बचती है और लोकसभा चुनाव में कैसा रिजल्ट आता है।

बरहाल अगर राजद और कांग्रेस के बीच सुलह नहीं हुआ तो मुश्किलें खड़ी हो सकती है। मालूम हो कि आज पटना में महागठबंधन की संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस है, जहां उम्मीदवारों का एलान होने वाला है। इसमें राजद नेता तेजस्वी यादव भी शामिल होंगे।

From Around the web