BCCI ने लिया बड़ा फैसला, अब बदलेगी भारतीय क्रिकेट की तस्वीर और किस्मत

 
BCCI took a big decision now the picture and fate of Indian cricket will change

नई दिल्ली, 20 सितम्बर 2021. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए अपनी 9वीं एपेक्स काउंसिल की बैठक में कई बड़े फैसले लिए हैं। टीम इंडिया लंबे घरेलू सत्र के लिए तैयार है। बोर्ड के ये फैसले भारतीय क्रिकेट की तस्वीर बदल सकते हैं। बैठक में बोर्ड के आला अधिकारी शामिल हुए। बीसीसीआई के इस कदम से अंडर-16 से लेकर सीनियर स्तर तक के करीब 2,000 क्रिकेटरों को फायदा होगा। आइए जानते हैं आज BCCI ने क्या-क्या बड़े फैसले लिए हैं।

बोर्ड ने स्थानीय क्रिकेटरों की फीस बढ़ा दी है। घोषणा के अनुसार अंडर-23 और अंडर-19 क्रिकेटरों को क्रमश: 25,000 रुपये और 20,000 रुपये प्रतिदिन मिलेंगे। इससे पहले रणजी ट्रॉफी में प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने वाले खिलाड़ी को रोजाना 35,000 रुपये मिलते थे। सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए बीसीसीआई प्रति मैच 17,500 रुपये का भुगतान करता था। बीसीसीआई ने महिला क्रिकेटरों के लिए नए पारिश्रमिक की भी घोषणा की और वरिष्ठ खिलाड़ियों को अब 12,500 रुपये के बजाय 20,000 रुपये प्रति मैच मिलेगा।

40 से अधिक मैच खेलने वाले रणजी खिलाड़ियों की मैच फीस लगभग दोगुनी होकर 60,000 रुपये प्रतिदिन हो गई है। यानी खिलाड़ी एक मैच से दो लाख 40 हजार रुपए कमा सकते हैं। 21 से 40 मैच खेलने वाले खिलाड़ियों को प्रतिदिन 50,000 रुपये मिलेंगे जबकि कम अनुभवी क्रिकेटरों को 40,000 रुपये प्रतिदिन मिलेंगे। बीसीसीआई के इस कदम से अंडर-16 से लेकर सीनियर स्तर तक के करीब 2,000 क्रिकेटरों को फायदा होगा।

BCCI took a big decision now the picture and fate of Indian cricket will change

कोविड-19 महामारी के चलते पिछले साल पहली बार रणजी ट्रॉफी का आयोजन नहीं हो सका, जिससे कई भारतीय क्रिकेटरों को आर्थिक दिक्कतों का सामना करना पड़ा। इन खिलाड़ियों के लिए बीसीसीआई की लंबे समय से प्रतीक्षित वापसी। बोर्ड ने 2020-21 सत्र से प्रभावित स्थानीय क्रिकेटरों को मुआवजे के रूप में अतिरिक्त 50 प्रतिशत मैच फीस की घोषणा की है।

बीसीसीआई ने अंडर-16 टूर्नामेंट पर भी फैसला कर लिया है। बोर्ड ने कहा कि अंडर-19 टूर्नामेंट और कोविड-19 की स्थिति को देखते हुए टूर्नामेंट का आयोजन किया जाएगा.

टीम इंडिया के घरेलू सीजन का भी ऐलान हो गया है. सत्र 17 नवंबर से शुरू होकर 19 जून तक चलेगा। भारत 7 महीने में 4 टीमों की मेजबानी करेगा। बीसीसीआई ने शीर्ष परिषद की बैठक में टी20 विश्व कप के बाद भारत के लंबे और व्यापक कार्यक्रम का पूरा खाका तैयार किया है। इसमें 4 टेस्ट, 3 वनडे और 14 टी20 का पूरा प्लान है।

From Around the web