सात भारतीय भाषाओं में प्रशंसकों से संवाद कर रहे आकाश चोपड़ा

क्रिकेटर से कमेंटेटर बने आकाश चोपड़ा, इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दौरान माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म कू पर प्रशंसकों से न केवल अंग्रेजी और हिंदी में बल्कि
 
Aakash Chopra interacts with fans in seven Indian languages
क्रिकेटर से कमेंटेटर बने आकाश चोपड़ा, इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दौरान माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म कू पर प्रशंसकों से न केवल अंग्रेजी और हिंदी में बल्कि कन्नड़, तेलुगु, बंगाली, मराठी और तमिल में भी संवाद कर रहे हैं।
 

Aakash Chopra interacts with fans in seven Indian languages



हाल ही में, चोपड़ा ने एक पोल बनाया – “क्या कोलकाता प्लेऑफ़ के लिए क्वालीफाई कर पाएगा”, जो सात भाषाओं में वायरल हो गया और प्रशंसकों से जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली, इस पोल का जवाब कई प्रशंसकों ने अपनी अलग-अलग मातृभाषा में दी। चोपड़ा के कू पर बहुत कम समय में दो लाख से अधिक फॉलोवर हो गए हैं।



सलामी बल्लेबाज, चोपड़ा ने 2003-04 के दौरान टेस्ट और एकदिवसीय मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया और वीरेंद्र सहवाग के साथ कई मैचों में भारत को मजबूत शुरुआत दिलाई। दोनों ने मेलबर्न और सिडनी में क्रमश: दो शतकीय साझेदारी की। चोपड़ा उन बेहतरीन भारतीय क्रिकेटरों में से एक हैं जिन्होंने 8,000 से अधिक प्रथम श्रेणी रन बनाए हैं।



आकाश ने 2015 में क्रिकेट से संन्यास ले लिया। इसके बाद वह बतौर कमेंटेटर का काम करने लगे और आज उनकी गिनती भारत के बेहतरीन कमेंटेटरों में होती है। इसके बाद आकाश का अपना यूट्यूब चैनल भी है जिस पर वह क्रिकेट की मौजूदा हलचल पर चर्चा करते हैं और अपनी बात भी रखते हैं। आकाश अब एक लेखक भी हैं और वह क्रिकेट को लेकर लगातार लिखते भी रहते हैं।

From Around the web