फ्यूचर ग्रुप के कारोबार को खरीदने के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज, डील को मिल सकती है हरी झंडी

मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज फ्यूचर ग्रुप के रिटेल कारोबार में खरीदारी की प्रबल संभावना के साथ आई है। सौदे को मंजूरी देने के लिए फ्यूचर रिटेल बोर्ड की शनिवार को बैठक होने वाली है। सारा सौदा नकद में होगा। फ्यूचर रिटेल रिलायंस के ऋण और देनदारियों को भी लेगा और फ्यूचर की एफएमसीजी कंपनी
 
फ्यूचर ग्रुप के कारोबार को खरीदने के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज, डील को मिल सकती है हरी झंडी

मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज फ्यूचर ग्रुप के रिटेल कारोबार में खरीदारी की प्रबल संभावना के साथ आई है। सौदे को मंजूरी देने के लिए फ्यूचर रिटेल बोर्ड की शनिवार को बैठक होने वाली है। सारा सौदा नकद में होगा। फ्यूचर रिटेल रिलायंस के ऋण और देनदारियों को भी लेगा और फ्यूचर की एफएमसीजी कंपनी में अल्पमत चरण का अधिग्रहण करेगा।

सूत्रों का कहना है कि यह सौदा 29,000-30,000 करोड़ रुपये का है। सौदे की शर्तों के अनुसार, Future Group अपनी पांच सूचीबद्ध इकाइयों को Future Enterprise Limited (FEL) में विलय कर देगा। इनमें किराने, कपड़े, आपूर्ति श्रृंखला और उपभोक्ता व्यवसाय में शामिल इकाइयां शामिल हैं। इसके बाद, एफईएल सभी खुदरा परिसंपत्तियों को अलग कर देगा और उन्हें एक इकाई के रूप में रिलायंस को बेच देगा।

एक सूत्र ने कहा कि रिलायंस फ्यूचर ग्रुप को लगभग 13,000 करोड़ रुपये का कर्ज देगा। इसके अलावा, अन्य देनदारियों का भुगतान करने के लिए 7000 करोड़ रुपये प्रदान किए जाएंगे। इसके अलावा, प्रमोटर समूह को 6,000 से 7,000 करोड़ रुपये दिए जाएंगे। इसके अलावा, रिलायंस 3,000 करोड़ रुपये के तरजीही आवंटन के जरिए फ्यूचर एंटरप्राइज में 14 से 16 प्रतिशत हिस्सेदारी लेगी। FEC में बाकी कारोबार में FMCG उत्पाद, कपड़ा मिलें और वायदा बीमा इकाइयां शामिल हैं।

From Around the web