आप के बागी नेता व कवि कुमार विश्वास थाम सकते भाजपा का हाथ

राजनीति कुछ भी कर सकती है, दुश्मन को दोस्त और दोस्त को दुश्मन बना सकती है ऐसा ही कुछ हो रहा है कुमार विश्वास के साथ. चर्चाएँ गर्म है कि आप के बागी नेता व कवि कुमार विश्वास जल्द भाजपा का हाथ थाम सकते हैं। सुनने में आया है कि कि कुमार को पूर्वी दिल्ली
 
आप के बागी नेता व कवि कुमार विश्वास थाम सकते भाजपा का हाथ

राजनीति कुछ भी कर सकती है, दुश्मन को दोस्त और दोस्त को दुश्मन बना सकती है ऐसा ही कुछ हो रहा है कुमार विश्वास के साथ. चर्चाएँ गर्म है कि आप के बागी नेता व कवि कुमार विश्वास जल्द भाजपा का हाथ थाम सकते हैं। सुनने में आया है कि कि कुमार को पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाया जा सकता है।

दो दिन पहले सोमवार देर रात भाजपा प्रदेश अध्यक्ष व नार्थ-ईस्ट दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी के घर कुमार विश्वास पहुंचे थे, जहां दोनों के बीच काफी देर तक विचार-विमर्श किया गया। इसके बाद कुमार को भाजपा में शामिल होने की चर्चाएं तेज हो गई है।

आप के बागी नेता व कवि कुमार विश्वास थाम सकते भाजपा का हाथ
भाजपा में शामिल होने को लेकर हरियाणवी लोक कलाकार सपना चौधरी का मामला अभी परवान नहीं चढ़ पाया है, इसी बीच आप के बागी नेता व कवि कुमार विश्वास का भाजपा में शामिल होने की चर्चाएं तेज हो गई है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी इन दिनों कलाकारों को पार्टी में शामिल कराने के लिए अहम भूमिका निभा रहे हैं। तिवारी ने हाल ही में भोजपुरी गायक दिनेश लाल निरहुआ को पार्टी में शामिल कराया है। नगर निगम चुनाव से पूर्व तिवारी ने भोजपुरी फिल्म स्टार रवि किशन को पार्टी में शामिल कराया था। कुछ दिन पूर्व हरियाणवी लोक कलाकार सपना चौधरी से भी तिवारी की मुलाकात हुई थी। हालांकि सपना अभी भाजपा में शामिल नहीं हुई हैं।

आप के बागी नेता व कवि कुमार विश्वास थाम सकते भाजपा का हाथ

कुमार सीधे तौर पर मुख्यमंत्री और आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल के खिलाफ पिछले काफी दिनों से मोर्चा खोले हुए हैं। वे सोशल मीडिया के जरिए केजरीवाल पर तीखे हमला करने से नहीं चूकते। आप में रहते हुए भी कुमार को दक्षिणपंथी विचारधारा का पोषक माना जाता रहा है। भाजपा के कई कद्दावर नेताओं से कुमार के अच्छे संबंध बताये जाते हैं। यहां तक कि मनोज तिवारी से भी उनके अच्छे रिश्ते हैं। भाजपा के विस्त सूत्र बताते हैं कि कुमार जल्द ही पार्टी में शामिल होंगे और उन्हें पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाया जा सकता है। पूर्वी दिल्ली सीट ब्राम्हण उम्मीदवार के लिए हमेश से मुफीद रही है।

From Around the web