नीति आयोग का कहना है कि सितंबर-अक्टूबर में आ सकती है कोरोना की तीसरी लहर, तैयार रहने की जरूरत

नई दिल्ली: – नीति आयोग के सदस्य वी. के- सारस्वत ने कहा कि भारत ने कोविड-19 की लहर का अच्छी तरह से मुकाबला किया है और संक्रमण के कम नए मामले सामने आए हैं। साथ ही उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि तीसरी लहर, कोरोना थर्ड वेव, जो बच्चों और युवाओं के लिए खतरा
 
नीति आयोग का कहना है कि सितंबर-अक्टूबर में आ सकती है कोरोना की तीसरी लहर, तैयार रहने की जरूरत

नई दिल्ली: – नीति आयोग के सदस्य वी. के- सारस्वत ने कहा कि भारत ने कोविड-19 की लहर का अच्छी तरह से मुकाबला किया है और संक्रमण के कम नए मामले सामने आए हैं। साथ ही उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि तीसरी लहर, कोरोना थर्ड वेव, जो बच्चों और युवाओं के लिए खतरा है, से निपटने के लिए तैयारी की जानी चाहिए। क। सारस्वत (वीके सारस्वत।) ने कहा।

तीसरी लहर का एक स्पष्ट संकेत

सारस्वत ने कहा, भारत में महामारी विज्ञानियों ने बहुत स्पष्ट संकेत दिए हैं। कोविड -19 की तीसरी लहर सितंबर-अक्टूबर में होने की उम्मीद है। इसके लिए देश को ज्यादा से ज्यादा लोगों का टीकाकरण करना चाहिए।

दूसरी लहर में अच्छा का किया

सारस्वत ने कहा, मुझे लगता है कि हमने काफी अच्छा काम किया है।
हमने कोविड-19 की दूसरी लहर का अच्छी तरह से मुकाबला किया और इसके परिणामस्वरूप संक्रमण के मामले बहुत कम हैं।
हमारी वैज्ञानिक और तकनीकी प्रणाली की मदद से, ऑक्सीजन बैंक का निर्माण, बड़ी मात्रा में ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए एक उद्योग की स्थापना, हम महामारी से निपटने में सफल रहे।
तरल ऑक्सीजन लाने के लिए रेलवे, हवाई अड्डों, सेना का इस्तेमाल किया जा रहा है।

From Around the web