ITBP के जवान इस महिला के लिए बन गए फ़रिश्ता, 40KM कंधे पर लादकर पहुँचाया अस्पताल

नई दिल्ली: भारतीय सेना के जवान देश की रक्षा करने के लिए जाने जाते हैं लेकिन जरूरत पड़ने पर वे आम आदमी के लिए भी फ़रिश्ता भी बन जाते हैं। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में एक ऐसा ही मामला सामने में आया है। जहाँ, ITBP के जवानों ने एक घायल महिला को 40 किमी तक अपने
 
ITBP के जवान इस महिला के लिए बन गए फ़रिश्ता, 40KM कंधे पर लादकर पहुँचाया अस्पताल

नई दिल्ली: भारतीय सेना के जवान देश की रक्षा करने के लिए जाने जाते हैं लेकिन जरूरत पड़ने पर वे आम आदमी के लिए भी फ़रिश्ता भी बन जाते हैं। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में एक ऐसा ही मामला सामने में आया है। जहाँ, ITBP के जवानों ने एक घायल महिला को 40 किमी तक अपने कंधों पर उठाकर अस्पताल पहुंचाया।

उन्होंने घायल महिला को 15 घंटे तक अपने कंधों पर ढोया। इसके बाद स्थानीय लोगों ने जवानों को धन्यवाद दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार, पिथौरागढ़ जिले के चौकी के पास एक सीमावर्ती गांव में एक पहाड़ी से गिरकर एक महिला घायल हो गई थी। आईटीबीपी के जवानों ने घायल महिला को 40 किलोमीटर के पहाड़ी रास्ते से पैदल ही अस्पताल पहुंचाया।

दरअसल 20 अगस्त को महिला अपने घर से कुछ दूरी पर अचानक पहाड़ी से गिर गई थी। हादसे में उसका पैर टूट गया था और उसकी हालत गंभीर थी। खराब मौसम के कारण हेलीकॉप्टर केवल देहरादून से बरेली तक ही पहुंच सका। आईटीबीपी कर्मियों ने महिला की हालत देखी और उसकी मदद की। बारिश के मौसम और खराब सड़कों के कारण बचाव अभियान में 15 घंटे लगे।

ITBP के जवान इस महिला के लिए बन गए फ़रिश्ता, 40KM कंधे पर लादकर पहुँचाया अस्पताल

के जवानों ने कल उत्तराखंड के पिथौरागढ़ के सुदूरवर्ती गांव लपसा से मुनस्यारी के एक स्ट्रेचर पर एक घायल महिला को ले जाकर 15 घंटे तक 40 किलोमीटर की पैदल यात्रा की। इस यात्रा के दौरान, उन्होंने बाढ़ वाले नालों और भूस्खलन-ग्रस्त क्षेत्रों को पार किया।

From Around the web