म्यांमार सीमा पर अपराध रोकने के लिए गोली भी चलाने से पीछे नहीं हटेंगे: बांग्लादेश के विदेश मंत्री

म्यांमार-बांग्लादेश सीमा पर दिन-ब-दिन अपराध बढ़ने को लेकर बांग्लादेश के विदेश मंत्री डॉ. एके अब्दुल मोमेन ने कहा कि म्यांमार सीमा पर फायरिंग स्थगित रखने के लिए बांग्लादेश
 
Wont shy away from firing even to stop crime on Myanmar border Bangladesh Foreign Minister
म्यांमार-बांग्लादेश सीमा पर दिन-ब-दिन अपराध बढ़ने को लेकर बांग्लादेश के विदेश मंत्री डॉ. एके अब्दुल मोमेन ने कहा कि म्यांमार सीमा पर फायरिंग स्थगित रखने के लिए बांग्लादेश ईमानदारी से प्रतिबद्ध है। म्यांमार से अवैध हथियार, ड्रग्स और मानव तस्करी इतनी अधिक बढ़ गई है कि अब लगता है यदि आवश्यक हुआ तो सीमा पर गोलीबारी की जा सकती है।

Wont shy away from firing even to stop crime on Myanmar border Bangladesh Foreign Minister


डॉ. मोमेन मंगलवार को बांग्लादेश के सिलहट एमएजी उस्मानी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भारत सरकार से प्राप्त दो एम्बुलेंस की चाबियाें को सौंपने के बाद पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि यह तय किया गया था कि म्यांमार-बांग्लादेश सीमा पर कभी भी गोलीबारी नहीं की जाएगी। लेकिन इस सरहद पर दिन-ब-दिन अपराध बढ़ते जा रहे हैं। मैंने इस बारे में गृह मंत्री से बात की है। जरूरत पड़ी तो भविष्य में अपराध रोकने के लिए गोलियां भी चलाई जा सकती हैं। बांग्लादेश के विदेश मंत्री ने कहा कि ऐसा होने के बाद मानव तस्करी, हथियार और नशीली दवाओं की तस्करी जैसे अपराधों को रोका जा सकता है।

बांग्लादेश के विदेश मंत्री ने आगे कहा कि हम मानवीय हैं। हम सीमा पर किसी को नहीं मारते। कभी-कभी पड़ोसी देश के एक या दो लोग हमारे हाथों मारे जाते हैं, तो मीडिया हमारी जान खा जाती है। बांग्लादेश-भारत ने सैद्धांतिक रूप से फैसला किया है कि सीमा पर एक भी व्यक्ति की मौत नहीं होगी।

बांग्लादेश में रोहिंग्या नेता मुहिबुल्लाह की हत्या के बारे में विदेश मंत्री ने कहा, "जिस व्यक्ति की मौत हुई है वह बांग्लादेश में शरण लिए हुए रोहिंग्याओं को वापस लौटाने का काम कर रहा था। वह रोहिंग्याओं को यह समझाने की कोशिश कर रहे थे कि उनका उज्ज्वल भविष्य उनके देश (म्यामार) में है। इसलिए उन्हें वापस रखाइन जाना होगा। इसी कोशिश को अंजाम देने के लिए उन्हें अपनी जान देनी पड़ी। हम चाहते हैं कि मुहिबुल्लाह की हत्या के रहस्य का खुलासा उचित जांच से हो और हत्यारे की पहचान हो। हत्यारों को सजा मिले।"

From Around the web