'टू प्लस टू' वार्ता से पहले क्षेत्रीय मुद्दों और हिंद-प्रशांत क्षेत्र को लेकर अमेरिका-भारत के बीच चर्चा

 
USIndia discussion on regional issues and Indo Pacific region before two plus two talks

वॉशिंगटन, 09 अक्टूबर  भारत और अमेरिका ने अपनी बढ़ती साझेदारी और स्वतंत्र एवं खुले प्रशांत क्षेत्र को बनाए रखने के लिए समान विचारधारा वाले भागीदारों के साथ सहयोग बढ़ाने पर चर्चा की।

पेंटागन (अमेरिका रक्षा मंत्रालय मुख्यालय) की ओर से कहा गया है कि दोनों देशों ने इस साल के अंत में होने वाली ‘टू प्लस टू’ वार्ता का आधार तैयार करने के लिए बैठक की।

इस बैठक में सह अध्यक्षता रक्षा सचिव अजय कुमार और अमेरिका नीति के लिए अवर रक्षा मंत्री कॉलिन कहल ने की।

पेंटागन की ओर से कहा गया है कि अमेरिका-भारत रक्षा नीति समूह की 16वीं बैठक इस साल के अंत तक होने वाली महत्वपूर्ण ‘टू प्लस टू’ मंत्रिस्तरीय वार्ता का बेस तैयार किया है।

रक्षा विभाग के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल एंटन टी सेमलरोथ ने कहा कि वार्ता ने द्विपक्षीय प्राथमिकताओं की व्यवस्था को आगे बढ़ाया है। इसमें सूचना-साझाकरण, उच्च समुद्री सहयोग और साजो-सामान का रक्षा व्यापार शामिल है।

यह अमेरिका और भारत के बीच बढ़ते रक्षा संबंधों का प्रतीक है। अमेरिका और भारतीय अधिकारियों ने दक्षिण एशिया और हिंद महासागर क्षेत्र सहित साझा हित के क्षेत्रीय मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान किया।

उन्होंने स्वतंत्र और खुले हिंद-प्रशांत क्षेत्र को बनाए रखने के लिए समान विचारधारा वाले भागीदारों के साथ सहयोग बढ़ाने के अवसरों पर भी चर्चा की। नेताओं ने अंतरिक्ष और साइबर जैसे नए रक्षा क्षेत्रों में

सहयोग को मजबूत करने सहित एक साथ अधिक निर्बाध रूप से काम करने के लिए अमेरिका और भारतीय सेनाओं के बीच संयुक्त सहयोग और अंतर-संचालनीयता को गहरा करने के लिए अपनी प्रतिबद्धता को मजबूत किया।
 

From Around the web