ओमान से पाकिस्तान पहुंचाने के लिए आईएसआई के लोग तैनात, मिलती है मोटी सैलरी

आतंकियों को ट्रेनिंग के लिए पाकिस्तान ले जाने के बीच ओमान की राजधानी मस्कट अब एक नया रूट बन गया है। इस रूट से पाकिस्तान ले जाने के लिए आईएसआई ने पूरी टीम तैनात कर रखी है, जिन्हें बकायदा मोटी सैलरी भी दी जाती है।
 
TERRORIST REACHED PAKISTAN-VIA OMAN-FOR TRAINING

नई दिल्ली, 18 सितम्बर 2021। आतंकियों को ट्रेनिंग के लिए पाकिस्तान ले जाने के बीच ओमान की राजधानी मस्कट अब एक नया रूट बन गया है। इस रूट से पाकिस्तान ले जाने के लिए आईएसआई ने पूरी टीम तैनात कर रखी है, जिन्हें बकायदा मोटी सैलरी भी दी जाती है। इस पूरी टीम का काम ट्रेनिंग के लिए पहुंचे आतंकियों को मस्कट के आगे समुद्र के रास्ते पाकिस्तान पहुंचाना है। बीच रास्ते भी अलग-अलग बोट पर आईएसआई के लोग पूरी निगरानी करते हैं और बोट्स बदल-बदलकर आतंकियों को पाकिस्तान पहुंचाते हैं। इस दौरान बोट्स पर हथियारों के साथ रास्तों और आसपास की पूरी निगरानी की जाती है। यह खुलासा स्पेशल सेल द्वारा गिरफ्तार किए गए छह आतंकियों ने स्पेशल सेल और आईबी की पूछताछ में किया।

हर बोट के मूवमेंट की सूचना आईएसआई तक...

खुफिया एजेंसी की मानें तो सुमद्र के रास्ते बोट से सफर के दौरान हर बोट पर आईएसआई का एक शख्स मौजूद रहते है। जो बोट के हर मूवमेंट की जानकारी अपने अधिकारियों को पहुंचा रहे थे। बोट में खाने-पीने के लिए भी चीजें दी जाती थी। साथ ही बोट्स पर हथियार पर रखे गए थे। बोट पर हर काम आईएसआई के इशारे पर ही अंजाम दिया जाता था। टेरर कैम्प में भी उन्हें हथियारों की ट्रेनिंग के साथ ही शारीरिक ट्रेनिंग भी दी गई। इसके अलावा वहां जेहाद के लिए उकसाने के लिए अलग से क्लास ली जाती थी।

TERRORIST REACHED PAKISTAN-VIA OMAN-FOR TRAINING

गोधरा ट्रेन अग्निकांड पार्ट-2 की थी तैयारी...

खुफिया सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तान के टेरर कैम्प में ट्रेनिंग के दौरान आतंकियों को गुजरात दंगों व मुजफ्फरनगर दंगों के वीडियो बार-बार दिखाकर ब्रेन वॉश किया जाता था। साथ ही वहां पर ट्रेनिंग ले रहे आतंकियों को गोधरा में वर्ष 2002 में हुए ट्रेन अग्निकांड को रिपीट करने के निर्देश भी दिए गए थे। इन 6 आतंकियों को दंगों के दौरान ज्यादा से ज्यादा फैक्ट्री, गोडाउन, शोरूम और दुकानें जलाने के भी निर्देश थे, ताकि ज्यादा से ज्यादा आर्थिक नुकसान पहुंचाया जा सके।

सीपी ने सुरक्षा हालातों का लिया जायजा...

दिल्ली पुलिस मुख्यालय में शुक्रवार को दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना की अध्यक्षता में कई पड़ोसी राज्यों के पुलिस अधिकारियों, एटीएस अधिकारियों व विभिन्न खुफिया एजेंसियों के अधिकारियों ने आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद सुरक्षा हालात को लेकर बैठक की। आईएसआई और अंडरवर्ल्ड के गठजोड़ वाले आतंकी मॉड्यूल के खुलासे और इस मॉड्यूल के छह आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद आगे की रणनीति पर चर्चा हुई। साथ ही अफगानिस्तान पर तालिबान के नियंत्रण के बाद की स्थिति पर भी चर्चा हुई। बैठक में मुख्य रूप से त्योहारी सीजन के दौरान भीड़भाड़ वाली जगहों को निशाना बनाए जाने और सीरियल विस्फोट करने को लेकर चर्चा की गई और सुरक्षा रणनीति बनाई गई।

From Around the web