भारत की सुरक्षा के लिए खतरा नहीं बनेगा श्रीलंका : गोतबाया राजपक्षे

श्रीलंका के राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे ने कहा है कि श्रीलंका भारत की सुरक्षा के लिए खतरा नहीं बनेगा। उन्होंने कहा कि उनका देश किसी भी ऐसी गतिविधि के लिए अपनी भूमि
 
Sri Lanka will not be a threat to India security Gotabaya Rajapakse
श्रीलंका के राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे ने कहा है कि श्रीलंका भारत की सुरक्षा के लिए खतरा नहीं बनेगा। उन्होंने कहा कि उनका देश किसी भी ऐसी गतिविधि के लिए अपनी भूमि का प्रयोग करने की अनुमति नहीं देगा जो भारत की सुरक्षा के लिए खतरा हो। उन्होंने भारत के विदेशी सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला के साथ हुई मुलाकात में यह आश्वासन दिया।

हर्षवर्धन श्रृंगला और राजपक्षे की बैठक के दौरान श्रीलंका की सेना के लिए भारत में प्रशिक्षण के अवसरों को बढ़ाने पर भी चर्चा हुई। श्रीलंका के राष्ट्रपति ने हिंद महासागर को शांति क्षेत्र घोषित करने के पूर्व प्रधानमंत्री सिरिमावो भंडारनायके के 1971 के प्रस्ताव को फिर से पेश करने की आवश्यकता को दोहराया और इस प्रयास के लिए भारत के समर्थन का आग्रह किया।
 

Sri Lanka will not be a threat to India security Gotabaya Rajapakse



उन्होंने इस दौरान श्रृंगला को बताया कि वह तमिल समुदाय के लोगों को फिर से देश में वापस लाने के लिए प्रयास कर रहे हैं जो देश छोड़कर चले गए थे। उन्होंने हाल ही में यूनाइटेड नेशंस समिट में भी तमिल समुदाय के लोगों को खुला निमंत्रण दिया था।



भारतीय निवेशकों को श्रीलंका आने का न्योता देते हुए उन्होंने कहा कि पूर्व में त्रिंकोमाली तेल टैंकों से संबंधित मुद्दे को हल करने की जिम्मेदारी विषय मंत्री को सौंपी गई है, जिससे दोनों देशों को लाभ होगा।



राजपक्षे ने आश्वासन दिया कि दोनों देशों में मछुआरों से संबंधित लंबे समय से चले आ रहे मुद्दे को सुलझाया जा सकता है, जिससे दोनों पक्षों के मछली पकड़ने वाले समुदायों को लाभ मिलेगा।

राजपक्षे ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को श्रीलंका आने का निमंत्रण भी दिया।

From Around the web