राष्ट्रपति ट्रम्प ने जानबूझकर COVID 19: को लेकर कभी गुमराह नहीं किया: व्हाइट हाउस 

कोरोना वायरस ने संयुक्त राज्य में प्लेग जारी रखा है, और राष्ट्रपति ट्रम्प अपने विवादास्पद बयानों के लिए सुर्खियों में रहे हैं। अब, व्हाइट हाउस ने स्पष्ट कर दिया है कि राष्ट्रपति ट्रम्प ने कभी भी कोरोना वायरस के बारे में लोगों को जानबूझकर गुमराह नहीं किया है। ट्रम्प ने हमेशा अपने सार्वजनिक भाषणों में
 
राष्ट्रपति ट्रम्प ने जानबूझकर COVID 19: को लेकर कभी गुमराह नहीं किया: व्हाइट हाउस 

कोरोना वायरस ने संयुक्त राज्य में प्लेग जारी रखा है, और राष्ट्रपति ट्रम्प अपने विवादास्पद बयानों के लिए सुर्खियों में रहे हैं।

अब, व्हाइट हाउस ने स्पष्ट कर दिया है कि राष्ट्रपति ट्रम्प ने कभी भी कोरोना वायरस के बारे में लोगों को जानबूझकर गुमराह नहीं किया है।

ट्रम्प ने हमेशा अपने सार्वजनिक भाषणों में वायरस के बारे में आशंकाओं को दूर करने की कोशिश की है और संकट की स्थिति में लोगों से घबराहट से बचने का आग्रह किया है।

राष्ट्रपति ट्रम्प ने जानबूझकर COVID 19: को लेकर कभी गुमराह नहीं किया: व्हाइट हाउस 

उसी समय, जैसे ही अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव नजदीक आता है, चुनाव प्रचार गति पकड़ रहा है। इसी समय, आरोपों और प्रतिशोध का चक्र तेज हो रहा है। दो मुख्य राष्ट्रपति उम्मीदवारों, डोनाल्ड ट्रम्प और जो बिडेन के बीच लड़ाई अब कोरोना वैक्सीन पर तेज हो गई है।

दरअसल, एक रिपोर्ट के अनुसार, डेमोक्रेटिक राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन ने कहा कि ट्रम्प ने कोरोना वैक्सीन के बारे में बहुत कुछ कहा है, जो सच नहीं है।

मुझे चिंता है कि अगर हमारे पास एक अच्छा टीका है, तो भी लोग इसे लेने के लिए अनिच्छुक होंगे। इसके पीछे की वजह ट्रंप का बयान है, जो लोगों के विश्वास को कमजोर कर रहा है।

बाद में, डोनाल्ड ट्रम्प ने कोरोना वैक्सीन के बारे में जनता को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए बिडेन पर निशाना साधा। ट्रम्प ने कहा कि बिडोन और कमला को कोरोना वायरस वैक्सीन के बारे में भ्रामक बयानों के लिए सार्वजनिक रूप से अमेरिकी जनता से माफी मांगनी चाहिए।

From Around the web