तालिबान के लिए दुनिया से भिड़ने को तैयार पाकिस्तान, कहा- करते रहेंगे मदद

तालिबान की मदद के लिए पाकिस्तान ने एक बार फिर साफ कर दिया है कि इसके लिए वह पूरी दुनिया की बुराई तक मोल ले सकता है। इस बार यह घोषणा पाकिस्तान के गृहमंत्री शेख रशीद ने की है। शेख रशीद ने गुरुवार को लाहौर में एक प्रेसवार्ता में कहा कि पाकिस्तान दुनिया के दबाव में आए बिना पड़ोसी अफगानिस्तान की मदद करता रहेगा।

 
Pakistan ready to face the world for Taliban, said - will continue to help
लाहौर, 08 अक्टूबर । तालिबान की मदद के लिए पाकिस्तान ने एक बार फिर साफ कर दिया है कि इसके लिए वह पूरी दुनिया की बुराई तक मोल ले सकता है। इस बार यह घोषणा पाकिस्तान के गृहमंत्री शेख रशीद ने की है। शेख रशीद ने गुरुवार को लाहौर में एक प्रेसवार्ता में कहा कि पाकिस्तान दुनिया के दबाव में आए बिना पड़ोसी अफगानिस्तान की मदद करता रहेगा।

काबुल पर तालिबान के कब्जे के बाद से पाकिस्तान अफगानिस्तान की नई सरकार को मान्यता देने की वकालत करता रहा है। पाकिस्तान ने न केवल तालिबान को हथियार दिए बल्कि अपने सैनिक भेजकर भी अफगानिस्तान पर कब्जा करने में मदद की। अब वह मानवीय सहायता की दलील देकर तालिबान को मजबूत करने में जुटा है।

अफगानिस्तान में मानवाधिकार हनन और महिलाओं पर बर्बरता के मामले सामने आने के बावजूद पाकिस्तान तालिबान की मदद में जुटा है। दुनियाभर के देश तालिबान पर मानवाधिकारों के सम्मान के लिए दबाव बनाने में जुटे हैं तो वहीं इमरान खान कट्टरपंथी इस्लामिक समूह की तारीफ करते नहीं थकते।
Pakistan ready to face the world for Taliban, said - will continue to help
केंद्रीय गृहमंत्री का यह बयान ऐसे समय पर आया है जब डेप्युटी सेक्रेटरी वेंडी शर्मन की अगुआई में अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल अमेरिका पहुंचा है, जबकि अमेरिका नहीं चाहता कि पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय समुदाय के फैसले से पहले तालिबान को मान्यता दे। अमेरिका चाहता है कि पाकिस्तान तालिबान पर समावेशी सरकार, मानवाधिकार और महिलाओं के अधिकार जैसे मुद्दे पर दबाव डाले।

 

From Around the web