पूर्व पीएम नवाज शरीफ के नाम पर बना दिया फर्जी सर्टिफिकेट, दो स्वास्थ्य कर्मचारी निलंबित

पाकिस्तान से निर्वासित प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के नाम पर पाकिस्तान में ही फर्जी कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र जारी कर दिया गया। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में स्वास्थ्य विभाग के दो कर्मियों को
 
Fake certificate made in the name of former PM Nawaz Sharif two health workers suspended
पाकिस्तान से निर्वासित प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के नाम पर पाकिस्तान में ही फर्जी कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र जारी कर दिया गया। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में स्वास्थ्य विभाग के दो कर्मियों को पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के नाम से सरकारी अस्पताल में फर्जी कोरोना टीका प्रमाणपत्र जारी करने के आरोप में गुरुवार को निलंबित कर दिया गया।
Fake certificate made in the name of former PM Nawaz Sharif two health workers suspended
जानकारी के अनुसार पंजाब सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि नवंबर 2019 से लंदन में इलाज करा रहे शरीफ को नेशनल कमांड ऑपरेशन सेंटर (एनसीओसी) के रिकॉर्ड के मुताबिक बुधवार को चीनी कोविड-19 रोधी टीके सिनोवैक की पहली खुराक दी गई।



एनसीओसी के रिकॉर्ड के मुताबिक शरीफ (71) को लाहौर के सरकारी कोट ख्वाजा सईद अस्पताल में टीका लगाया गया। यह प्रकरण पाकिस्तान में एक बड़े राजनीतिक तूफान में बदल गया, जिसमें शरीफ के नेतृत्व वाले विपक्षी दल पाकिस्तान मुस्लिम लीग (पीएमएल)-एन ने प्रधानमंत्री इमरान खान और उनके मंत्रियों को टीकाकरण कार्यक्रम को लेकर निशाना बनाया है।



पीएमएल (नवाज) पंजाब की प्रवक्ता आजमा बुखारी ने कहा कि सरकार ने जहां कम्प्यूटरीकृत राष्ट्रीय पहचान पत्र (सीएनआईसी) को ब्लॉक कर दिया, वहीं तीन बार के प्रधानमंत्री का नाम एनसीओसी के आंकड़ों में शामिल है। उन्होंने कहा कि यह सरकार के टीकाकरण कार्यक्रम पर गंभीर सवाल खड़ा करता है। यह विडंबना है कि एनसीओसी के आंकड़ों में शरीफ का टीकाकरण रिकॉर्ड भी सामने आया है।



इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदार ने इस मामले में जांच के आदेश दिए थे। पूर्व में फर्जी कोविड-19 टीका प्रमाण-पत्र जारी करने के लिये स्वास्थ्य विभाग के कई कर्मचारियों को निलंबित या गिरफ्तार किया जा चुका है।

From Around the web