धारा 370 लागू होने के बाद से दो वर्षों में दूसरे राज्य के केवल दो व्यक्तियों ने जम्मू-कश्मीर में जमीन खरीदी

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए हुए 2 साल से ज्यादा का समय हो चुका है और अब इससे दूसरे राज्य के व्यक्ति के लिए जम्मू-कश्मीर में जमीन खरीदना संभव हो गया है. संसद में यह पूछे जाने पर कि धारा 370 के निरस्त होने के बाद से राज्य के बाहर से कितने लोगों ने
 
धारा 370 लागू होने के बाद से दो वर्षों में दूसरे राज्य के केवल दो व्यक्तियों ने जम्मू-कश्मीर में जमीन खरीदी

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए हुए 2 साल से ज्यादा का समय हो चुका है और अब इससे दूसरे राज्य के व्यक्ति के लिए जम्मू-कश्मीर में जमीन खरीदना संभव हो गया है.

संसद में यह पूछे जाने पर कि धारा 370 के निरस्त होने के बाद से राज्य के बाहर से कितने लोगों ने यहां जमीन खरीदी है, सरकार ने जवाब दिया कि अगस्त 2019 से राज्य में केवल दो बाहरी लोगों ने जमीन खरीदी है।

इस सवाल का जवाब केंद्रीय गृह मंत्री नित्यानंद राय ने दिया। साथ ही उन्होंने कहा, जम्मू-कश्मीर में न तो लोगों को और न ही सरकार को जमीन खरीदने में कोई दिक्कत हो रही है.

विशेष रूप से, जब तक धारा 370 लागू थी, तब तक दूसरे राज्य का कोई भी व्यक्ति यहां जमीन नहीं खरीद सकता था। लेकिन अब जम्मू-कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है और तब से यह नियम हटा लिया गया है।

हाल ही में जम्मू-कश्मीर के उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने भी राज्य में नई शूटिंग नीति लागू की है। यहां कई योजनाएं भी शुरू की गई हैं।

From Around the web