सरकार ने भारत बंद को लेकर राष्ट्रव्यापी जारी किये सलाह निर्देश, इन राज्यों की सुरक्षा बढ़ाने के आदेश

किसान संगठनों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के दौरान शांति और हिंसा को लेकर केंद्र सरकार बहुत सतर्क है। सरकार ने भारत बांध को देखते हुए सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सलाह दी है। अधिकारियों ने कहा कि सरकार ने अपने दिशानिर्देशों में कहा है कि हर जगह शांति सुनिश्चित करने के लिए
 
सरकार ने भारत बंद को लेकर राष्ट्रव्यापी जारी किये सलाह निर्देश, इन राज्यों की सुरक्षा बढ़ाने के आदेश

किसान संगठनों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के दौरान शांति और हिंसा को लेकर केंद्र सरकार बहुत सतर्क है। सरकार ने भारत बांध को देखते हुए सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सलाह दी है। अधिकारियों ने कहा कि सरकार ने अपने दिशानिर्देशों में कहा है कि हर जगह शांति सुनिश्चित करने के लिए आज मंगलवार को भारत बंद के दौरान सुरक्षा कड़ी की जानी चाहिए।

मध्य प्रदेश में दंगों पर नजर रखी जाएगी

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सरकार किसानों के साथ खड़ी है। किसानों से संवाद कर उनकी शंकाओं का समाधान किया जाएगा। सरकार किसानों को पूरी संतुष्टि देगी, लेकिन किसानों के आंदोलन के बीच में ऐसे तत्व हैं जो हमारे देश में अराजकता पैदा करना चाहते हैं। हम उन पर नजर रखेंगे और उन्हें नहीं छोड़ेंगे।

गुजरात सफल होना बंद नहीं करेगा

गुजरात के सीएम विजय रूपानी ने कहा कि भारत बंद को गुजरात में किसानों और एपीएमसी का समर्थन नहीं था। गुजरात में ऐसी स्थिति नहीं है। आज का समापन सफल नहीं होगा। सरकार ने भी पूरी व्यवस्था की है कि बंद के नाम पर कोई हिंसक घटना नहीं हुई है। कृषि कानूनों का विरोध अब किसान आंदोलन नहीं है, क्योंकि राजनीतिक दल कूद गए हैं।

कोरोना रोकथाम दिशानिर्देशों का पालन किया जाएगा

केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी किए गए राष्ट्रव्यापी दिशानिर्देशों में कहा गया है कि राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेश के प्रशासकों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि कोरोना की रोकथाम पर पहले जारी किए गए दिशानिर्देशों का पालन किया जाए। इसके अलावा प्रदर्शन के दौरान शारीरिक दूरी बनाए रखी जानी चाहिए। राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को भारत बांध के मद्देनजर शांति बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं।

सावधानी बरती जाएगी

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने सोमवार को कहा कि भारत बंद के दौरान गड़बड़ी से बचने के लिए राज्यों को पहले से ही सावधानी बरतने को कहा गया है। साथ ही किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए कड़ी सतर्कता बरती जानी चाहिए। ऐसा माना जाता है कि किसान संगठनों ने मंगलवार को भारत बंद का आह्वान किया है। किसान संसद के मानसून सत्र में पेश किए गए तीन नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं।

आंदोलन के लिए इनका कड़ा  का विरोध

किसानों द्वारा बुलाए गए भारत बंद को कांग्रेस, एनसीपी, डीएमके, सपा, टीआरएस और वाम दलों ने समर्थन दिया है। हजारों किसान दिल्ली के सीमावर्ती इलाकों में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। सरकार ने किसान नेताओं के साथ पांच दौर की वार्ता की है लेकिन आंदोलन खत्म नहीं हुआ है। किसान संगठनों के नेता तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग कर रहे हैं।

From Around the web