बड़ा फैसला : मोदी कैबिनेट में लिया गया बड़ा फैसला, सीधा 80 करोड़ लोगों को होगा ये फायदा

नई दिल्ली : कैबिनेट की बैठक में आज सीआरडब्ल्यूसी (CRWC) और सीडब्ल्यूसी (CWC) विलय को मंजूरी दी गई। मुफ्त भोजन वितरण योजना को नवंबर तक बढ़ाने के निर्णय को भी मंजूरी दे दी गई है। जिससे 80 करोड़ लोगों को फायदा होगा। बता दें कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर को देखते हुए राशन कार्ड
 
बड़ा फैसला :  मोदी कैबिनेट में लिया गया बड़ा फैसला, सीधा 80 करोड़ लोगों को होगा ये फायदा

नई दिल्ली : कैबिनेट की बैठक में आज सीआरडब्ल्यूसी (CRWC) और सीडब्ल्यूसी (CWC) विलय को मंजूरी दी गई। मुफ्त भोजन वितरण योजना को नवंबर तक बढ़ाने के निर्णय को भी मंजूरी दे दी गई है। जिससे 80 करोड़ लोगों को फायदा होगा। बता दें कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर को देखते हुए राशन कार्ड धारकों को केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण खाद्य योजना के तहत दिवाली तक 5 किलो मुफ्त अनाज मिलेगा. कैबिनेट की बैठक में आज सीआरडब्ल्यूसी और सीडब्ल्यूसी के विलय को मंजूरी दी गई। जिससे टैक्स कम करने में भी काफी मदद मिलेगी। सरकार को सालाना करीब 5 करोड़ रुपये का फायदा होगा।

सरकार को 5 करोड़ रुपये का सालाना फायदा

मिलेगा.प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत राशन कार्ड धारकों को दिवाली तक 5 किलो मुफ्त अनाज मिलेगा. पिछले साल, केंद्र सरकार ने इस योजना पर 90,000 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए थे। अगर इसमें पिछले तीन महीने का खर्च जोड़ दिया जाए तो यह आंकड़ा करीब 1.5 लाख करोड़ रुपये होगा। यह योजना पिछले साल पहले लॉकडाउन के कुछ ही दिनों बाद शुरू की गई थी। नतीजतन, देश में लगभग 81 करोड़ लोगों को अप्रैल, मई और जून में मुफ्त खाद्यान्न दिया गया।

दिवाली तक 5 किलो मुफ्त अनाज, एक सदस्य को दीवाली तक 10 किलो अनाज मिलेगा. इस योजना के तहत 10 किलो अनाज में से सिर्फ 5 किलो अनाज देना होगा और 5 किलो अनाज मुफ्त दिया जाएगा. यानी चार सदस्यों के नाम वाले राशन कार्ड पर 20 किलो अनाज मुफ्त दिया जाएगा। यानी 40 किलो अनाज में से 20 किलो अनाज ही देना होगा और 20 किलो अनाज मुफ्त में मिलेगा.

From Around the web