1 अक्टूबर से बेकार हो जाएंगे इन तीनों बैंकों के चेकबुक, क्या इस बैंक में आपका खाता?

 
Chequebook of these three banks will become useless from October 1

Sabkuchgyan, 12 सितंबर 2021:- बैंकों के विलय के बाद ग्राहकों को सिस्टम को समझने का समय दिया गया। इसके बाद मर्ज किए गए बैंकों के चेक बुक और IFSC कोड बदल दिए गए। अब इन बैंकों में एक बार फिर बड़ा बदलाव होने जा रहा है। देश के तीन बैंकों का अन्य बैंकों में विलय हो गया है। इससे उनकी चेकबुक बदल जाएगी। 1 अक्टूबर से इन बैंकों के चेकबुक बदल जाएंगे। 

इन बैंकों की चेकबुक होंगी बेकार:- दरअसल ये तीन बैंक कोई और नहीं बल्कि इलाहाबाद बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया हैं। जिनकी चेकबुक और MICR कोड 1 अक्टूबर से अप्रचलित हो जाएंगे। इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में विलय हो गया है, जो 1 अप्रैल, 2020 से प्रभावी है। ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया का 1 अप्रैल 2019 से पंजाब नेशनल बैंक में विलय हो गया।

जानकारी पहले ही ट्वीट की जा चुकी है:- इंडियन बैंक ने अगस्त में ट्वीट किया था कि इलाहाबाद बैंक का MICR कोड और चेकबुक 30 सितंबर, 2021 तक वैध रहेगा, जिसके बाद इसे अमान्य घोषित कर दिया जाएगा। यानी 1 अक्टूबर 2021 से बैंक का MICR कोड और चेकबुक अमान्य हो जाएगा।

Chequebook of these three banks will become useless from October 1

अगर आप बिना किसी रुकावट के अपना बैंकिंग ट्रांजेक्शन जारी रखना चाहते हैं, तो ग्राहक 1 अक्टूबर, 2021 से पहले नई चेक बुक प्राप्त कर सकते हैं। इंडियन बैंक के मुताबिक ग्राहक नई चेक बुक नजदीकी शाखा से प्राप्त कर सकते हैं. या आप चाहें तो इंटरनेट बैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग के जरिए भी अप्लाई कर सकते हैं।

पीएनबी ने भी ग्राहकों को किया आगाह:- वहीं, पंजाब नेशनल बैंक ने भी ट्वीट किया है कि ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया की पुरानी चेकबुक 1 अक्टूबर, 2021 से काम नहीं करेंगी। ऐसे ग्राहक इन दोनों बैंकों की पुरानी चेकबुक को नई पीएनबी चेकबुक पीएनबी आईएफएससी और एमआईसीआर से बदल दें।

आवेदन एटीएम, इंटरनेट बैंकिंग या पीएनबी वन के जरिए किए जा सकते हैं। इससे पहले पीएनबी ने ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया के चेक की वैधता 30 जून 2021 तक बढ़ा दी थी।

From Around the web